दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी संशोधन विधेयक से उप राज्यपाल ‘वायसराय’ बन जाएगा: चिदंबरम

इन संशोधनों के बाद दिल्ली सरकार की स्थिति नगरपालिका से भी कम हो जाएगी तथा उप राज्यपाल ‘वायसराय’ बन जाएगा. पूर्व गृह मंत्री ने विपक्षी दलों का आह्वान किया कि संसद में वे इस विधेयक के खिलाफ मतदान करें. 

दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी संशोधन विधेयक से उप राज्यपाल ‘वायसराय’ बन जाएगा: चिदंबरम

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र शासन संशोधन विधेयक 2021 को लेकर मंगलवार को सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इन संशोधनों के बाद दिल्ली सरकार की स्थिति नगरपालिका से भी कम हो जाएगी तथा उप राज्यपाल ‘वायसराय' बन जाएगा. पूर्व गृह मंत्री ने विपक्षी दलों का आह्वान किया कि संसद में वे इस विधेयक के खिलाफ मतदान करें. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘इस प्रस्तावित अधिनियम में जिन संशोधनों का प्रस्ताव है वे संशोधन प्रतिगामी, अलोकतांत्रिक और दिल्ली के लोगों का अपमान हैं.'' चिदंबरम के मुताबिक, ‘‘लोगों की मांग और दिल्ली वालों की इच्छा थी कि स्थानीय सरकार की विधायी शक्तियों को बढ़ाया जाए. इसके विपरीत, प्रस्तावित संशोधन लाया गया है जो दिल्ली सरकार की स्थिति को एक नगरपालिका से कम कर देगा.'' 

केजरीवाल के सुशासन मॉडल से घबरा गई BJP, इसीलिए ताकत छीनी जा रही: मनीष सिसोदिया

उन्होंने दावा किया, ‘‘प्रस्तावित संशोधनों के तहत, केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त उपराज्यपाल अपने मालिक की इच्छा के अनुसार सभी शक्तियों का प्रयोग करने वाला वायसराय बन जाएगा.'' कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘लोगों को संशोधनों का विरोध करना चाहिए. विपक्ष को संशोधनों के खिलाफ मतदान करना चाहिए.'' 


केंद्र की ओर से पेश NCT बिल को AAP सरकार ने बताया असंवैधानिक, इन संशोधनों पर है ऐतराज..

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उल्लेखनीय है कि लोकसभा में सोमवार को दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र शासन संशोधन विधेयक 2021 पेश किया गया जिसमें दिल्ली के उपराज्यपाल की कुछ भूमिका और अधिकारों को परिभाषित करने का प्रस्ताव किया गया है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)