अब मंत्री नवाब मलिक के दामाद की जमानत को चुनौती देगी NCB: सूत्र

समीर खान को इस साल 13 जनवरी को 200 किलोग्राम नशीले पदार्थ रखने पर NCB ने गिरफ्तार किया था लेकिन मलिक ने दावा किया था कि बरामद सामग्री "हर्बल तंबाकू" था. समीर को आठ महीने बाद सितंबर में अदालत ने जमानत दी थी.

मुंबई:

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने जिन छह ड्रग्स मामलों को मुंबई जोन के अफसर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) से लेकर वरिष्ठ अधिकारी संजय सिंह (Sanjay Singh) की अगुवाई वाली SIT को सौंपा है, उनमें महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Maharashtra Minister Nawab Malik) के दामाद समीर खान (Sameer Khan) का भी केस शामिल है.

सूत्रों ने बताया है कि स्पेशल इन्वेस्टिगेटिव टीम (SIT) का इरादा अब नवाब मलिक के दामाद समीर खान को दी गई जमानत को रद्द कराने के लिए अदालत जाने का है. यह एक ऐसा कदम है, जिससे राजनीतिक विवाद छिड़ने की आशंका है, क्योंकि मंत्री लगातार ड्रग्स विरोधी एजेंसी और इसके जोनल हेड समीर वानखेड़े पर हमले कर रहे हैं.

सामने आएगा सच? आर्यन खान समेत 6 केस की जांच करने आज मुंबई पहुंचेगी NCB की SIT टीम

समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि जमानत को चुनौती देने का फैसला सबसे पहले पिछले महीने की शुरुआत में ही किया गया था. समीर खान को एनसीबी ने तब समन किया था जब उसे ड्रग्स के एक अन्य मामले में खान और एक आरोपी के बीच 20,000 रुपये के ऑनलाइन लेनदेन के सबूत मिले थे.

समीर खान को इस साल 13 जनवरी को 200 किलोग्राम नशीले पदार्थ रखने पर NCB ने गिरफ्तार किया था लेकिन मलिक ने दावा किया था कि बरामद सामग्री "हर्बल तंबाकू" था. समीर को आठ महीने बाद सितंबर में अदालत ने जमानत दी थी.


जानिए कौन हैं संजय सिंह, जो समीर वानखेड़े की जगह करेंगे ड्रग्स के 6 मामलों की जांच 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


समीर खान का मामला पिछले महीने तब फिर से सुर्खियों में आया, जब NCB ने बॉलीवुड स्टार शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान को  मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में गिरफ्तार किया. इसके बाद नवाब मलिक ने NCB और समीर वानखेड़े पर आरोपों की बौछार कर दी. इसके तहत मलिक ने वानखेड़े पर जबरन वसूली, फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाने और शाहरुख खान को फंसाने के लिए एक फर्जी मामला बनाने का आरोप लगाया था.