नरेंद्र मोदी की नीतियों ने 14 करोड़ लोगों को बेरोजगार बना दिया : राहुल गांधी

Rahul Gandhi: राहुल गांधी ने कहा है कि नोटबंदी, गलत जीएसटी और फिर लॉकडाउन, इन तीन कदमों ने हिंदुस्तान के इकोनॉमिक स्ट्रक्चर को खत्म कर दिया

नरेंद्र मोदी की नीतियों ने 14 करोड़ लोगों को बेरोजगार बना दिया : राहुल गांधी

Rahul Gandhi: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के लिए एक वीडियो संदेश जारी किया है.

नई दिल्ली:

Rahul Gandhi: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा है कि जब नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)  प्रधानमंत्री बने थे, उन्होंने देश के युवाओं से वायदा किया था कि वे दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार दिलवाएंगे. बहुत बड़ा सपना दिया, सच्चाई निकली- 14 करोड़ लोगों को नरेंद्र मोदी जी की पॉलिसीज (नीतियों) ने बेरोजगार बना दिया है. ये क्यों हुआ- गलत पॉलिसीज के कारण. यह बात उन्होंने एक वीडियो संदेश में कही है.  

राहुल गांधी ने कहा है कि नोटबंदी, गलत जीएसटी और फिर लॉकडाउन, इन तीन कदमों ने हिंदुस्तान के इकोनॉमिक स्ट्रक्चर को खत्म कर दिया है, नष्ट कर दिया है. और अब सच्चाई ये है कि हिंदुस्तान अपने युवाओं को रोजगार नहीं दे सकता है. इसीलिए यूथ कांग्रेस जमीन पर उतर रही है और मुझे बहुत खुशी है कि इस मुद्दे को यूथ कांग्रेस हर कस्बे में सड़कों पर उठाएगी और पूरे दम से इस मुद्दे को उठाने जा रही है. 

पीएम मोदी ने कहा- 'गंदगी भारत छोड़ो', राहुल गांधी का तंज- 'असत्य की गंदगी' भी साफ हो

राहुल गांधी ने कहा है कि "रोजगार दो प्रोग्राम" से आप सब जुड़िए और यूथ कांग्रेस के साथ मिलकर देश के युवाओं को रोजगार दिलवाइए. उन्होंने कहा है कि मैं यूथ कांग्रेस को बधाई देना चाहता हूं, आपका स्थापना दिवस है, लगे रहिए, हिंदुस्तान के युवाओं के लिए लड़िए. 

दस अगस्त को बतौर कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी का एक साल का कार्यकाल पूरा हो जाएगा. इस बारे में कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि ऐसा नहीं है कि कांग्रेस 10 अगस्त की आधी रात को अध्यक्ष विहीन हो जाएगी. सोनिया गांधी हमारी अध्यक्ष हैं और रहेंगी. कांग्रेस अपने संविधान की प्रक्रिया के हिसाब से कदम उठाएगी.


राहुल गांधी का मोदी सरकार पर तंज, कहा - जब-जब देश भावुक हुआ, फाइलें गायब हुईं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि चीन के साथ बातचीत चल रही है. इस बीच डेपसांग में चीन ने 17,000 और सैनिक तैनात किए गहैं. नेपाल अपनी सेना लगाकर धारचुला तिंकर रोड को जल्दबाज़ी से बना रहा है. चीन के असर में नेपाल ने पहले कालापानी लिपुलेख और लिंपियाधारा को अपने नक्शे में दिखा दिया और अब उसी के प्रभाव में ये रोड युद्धस्तर पर बना रही है.