Maharashtra: पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ACB करेगी जांच, पूर्व गृह मंत्री पर उगाही के लगाए थे आरोप  

राज्य सरकार ने ये आदेश उस शिकायत पर दिया है, जिसे अनूप डांगे नाम के एक पुलिस इंस्पेक्टर ने दर्ज करवाई थी. डांगे ने परमबीर सिंह के खिलाफ करप्शन के कई आरोप लगाए थे. डांगे का आरोप है कि जब वह निलंबित था, तब फिर से सेवा में लेने के लिए परमबीर सिंह ने उससे रिश्वत की मांग की थी.

Maharashtra: पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ACB करेगी जांच, पूर्व गृह मंत्री पर उगाही के लगाए थे आरोप  

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ACB रिश्वतखोरी की जांच करेगी. (फाइल फोटो)

मुंबई:

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (Param Bir Sigh)  के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच के लिए महाराष्ट्र सरकार ने एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) को अनुमति दे दी है. राज्य सरकार ने ACB को खुली ( open inquiry) जांच करने की अनुमति दी है. राज्य सरकार ने ये आदेश उस शिकायत पर दिया है, जिसे अनूप डांगे नाम के एक पुलिस इंस्पेक्टर ने दर्ज करवाई थी. डांगे ने परमबीर सिंह के खिलाफ करप्शन के कई आरोप लगाए थे.

डांगे का आरोप है कि जब वह निलंबित था, तब फिर से सेवा में लेने के लिए परमबीर सिंह ने उससे रिश्वत की मांग की थी.

पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह पर 5 हजार का जुर्माना, आयोग के सामने नहीं हुए थे पेश


बता दें कि एंटीलिया विवाद के बाद जब परमबीर सिंह का तबादला किया गया था, तब उन्होंने एक चिट्ठी लिखकर राज्य के तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये वसूली के आरोप लगाए थे. सिंह ने सीएम को लिखे पत्र में कहा था कि देशमुख ने विवादित पुलिस अफसर सचिन वाजे को मुंबई में 100 करोड़ की वसूली का टारगेट दिया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसके अलावा भी देशमुख पर सिंह ने कई आरोप लगाए थे. बाद में हाईकोर्ट ने मामले की सीबीआई से जांच कराने के आदेश दिए थे. तब देशमुख को पद छोड़ना पड़ा था.