कोलकाता पुलिस ने छेड़खानी और महिलाओं का पीछा करने के आरोप में 6 को गिरफ्तार किया

देश में रेप और छेड़खानी की बढ़ती घटनाओं से निपटने के लिए कई राज्यों की पुलिस ने व्यापक अभियान शुरू किया है. इसी कड़ी में कोलकाता पुलिस की स्पेशल टीम विनर्स (इस टीम में सिर्फ महिला पुलिस है) ने शहर के अस्पताल रोड पर अभियान चलाकर 6 मनचलों को पकड़ा है.

कोलकाता पुलिस ने छेड़खानी और महिलाओं का पीछा करने के आरोप में 6 को गिरफ्तार किया

कोलकाता पुलिस ने 6 मनचलों को गिरफ्तार किया है

नई दिल्ली:

देश में रेप और छेड़खानी की बढ़ती घटनाओं से निपटने के लिए कई राज्यों की पुलिस ने व्यापक अभियान शुरू किया है. इसी कड़ी में कोलकाता पुलिस की स्पेशल टीम विनर्स (इस टीम में सिर्फ महिला पुलिस है) ने शहर के अस्पताल रोड पर अभियान चलाकर 6 मनचलों को पकड़ा है. इस इलाके में काफी समय से छेड़खानी और महिलाओं के पीछे करने की शिकायतें आ रही थीं. वहीं महानगर के पुलिस आयुक्त अनुज शर्मा ने रविवार को लोगों से अपील की कि जब भी वे किसी महिला को संकट में देखें तो 100 नंबर पर डायल करें और पुलिस से संपर्क करें. उन्होंने कहा कि फोन करने वाले अगर अपनी पहचान गुप्त रखना चाहते हैं तो उनकी पहचान उजागर नहीं की जाएगी. शर्मा ने ट्वीट किया, ''अगर आप किसी संदिग्ध व्यक्ति या संदिग्ध चीज को देखते हैं, अगर आप किसी महिला को संकट में पाते हैं, किसी व्यक्ति को परेशानी में देखते हैं तो कृपया 100 नंबर पर फोन करें और हमें सूचित करें. अगर आप अपनी पहचान उजागर नहीं करना चाहते तो हम पहचान गोपनीय रखेंगे''.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पिछले हफ्ते सभी थानों को निर्देश दिया था कि महिलाओं के खिलाफ हिंसा की शिकायतों को बिना किसी देरी के दर्ज करें. उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि इस तरह के मामलों में शिकायत दर्ज करने से इंकार करने वाले पुलिसकर्मियों को दंडित किया जाए. कोलकाता पुलिस ने शुक्रवार को भी छेड़खानी करने वालों, गड़बड़ी पैदा करने वालों और बेतरतीब मोटरसाइकिल चलाने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर महानगर के विभिन्न स्थानों से 74 लोगों को गिरफ्तार किया था. शर्मा ने सोशल मीडिया के एक पोस्ट को भी खारिज किया जिसमें दावा किया गया कि कोलकाता पुलिस ''रात दस बजे से सुबह छह बजे तक महिलाओं को नि:शुल्क वाहन'' मुहैया कराएगी.