केरल: महिला ने 6 साल के बेटे की हत्‍या की, बाद में पुलिस को बुलाकर दी घटना की जानकारी

अधिकारियों के अनुसार, महिला ने बाद में पुलिस को बुलाया और घटना के बारे में जानकारी दी. इसके बाद उसे अरेस्‍ट किया गया.

केरल: महिला ने 6 साल के बेटे की हत्‍या की, बाद में पुलिस को बुलाकर दी घटना की जानकारी

पुलिस ने महिला को अरेस्‍ट करके मामले की जांच शुरू कर दी है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

तिरुवनंतपुरम:

केरल के पलक्‍कड़ जिले (Kerala's Palakkad district) एक महिला को कथित तौर पर अपने छह साल के बेटे की 'बलि' देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों के अनुसार, महिला ने बाद में पुलिस को बुलाया और घटना के बारे में जानकारी दी. इसके बाद उसे अरेस्‍ट किया गया. चौथे बच्‍चे के लिए गर्भवती शाहिदा ने रविवार रात को अपने बेटे को मार डाला और बाद में इसके बारे में पुलिस को बताया. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के वक्‍त इस महिला का पति और दो अन्‍य बच्‍चे साथ में लगे हुए कमरे में सो रहे थे. परिजनों को इस घटना के बारे में तब पता लगा जब महिला के बुलाने पर पुलिस घर पर पहुंची. पुलिस ने शाहिदा के खिलाफ मामला दर्ज करके तफ्तीश शुरू कर दी है.


केरल में कोरोना का कहर : दो स्कूलों के 10वीं क्लास के करीब 200 स्टूडेंट्स निकले COVID पॉजिटिव

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि इससे पहले आंध्र प्रदेश के चित्‍तूर जिले में भी ऐसी घटना सामने आई थी जब एक दंपती ने अपनी दो बेटियों की इस उम्‍मीद में हत्‍या कर दी थी वे अलौकिक शक्तियों के चलते कुछ ही घंटों में उनके पास 'लौट' आएंगी. चित्तूर के पुलिस अधीक्षक सेंथिल कुमार ने बताया था कि  पुलिस ने उस दंपती को गिरफ्तार कर लिया है जिसने अपनी ही बेटियों की कथित हत्या इस अंधविश्वास चलते की कि वे बुराइयों से मुक्त होकर दोबारा जिंदा हो जाएंगी. पुलिस ने बताया था कि, ‘‘दंपती, बेटियों की हत्या की वजहों को लेकर स्पष्ट हैं. उनको कुछ मानसिक समस्या हो सकती है लेकिन वे बहुत ही अंधविश्वासी और आध्यात्मिक हैं.''उन्होंने बताया कि माता-पिता ने बेटियों की कथित हत्या की क्योंकि कि उन्हें विश्वास था कि वे दोबारा जिंदा हो जाएंगी और उसके बाद चारों खुशी-खुशी रहेंगे. उन्होंने कहा, ‘‘यह विकृत सोच जैसा मामला है.''