"जस्टिस चंद्रचूड़ से संपर्क टूट गया",अधिवक्ता के बयान पर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में दिखा अलग नजारा

सुप्रीम कोर्ट के केस की वर्चुअल सुनवाई के दौरान जस्टिस चंद्रचूड़ (Justice DY Chandrachud ) जब दोबारा जुड़े तो सॉलिसिटर जनरल  तुषार मेहता ने कहा, "एक गलत शब्द इस्तेमाल किया गया है, जैसे कि जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ से संपर्क टूट गया था."

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ करीब 20 सेकेंड के लिए लॉगआउट हो गए थे.

नई दिल्ली:

सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को कोरोना से जुड़े मामले की सुनवाई के दौरान तकनीकी गड़बड़ी आई तो माहौल काफी हल्का-फुल्का नजर आया, क्योंकि जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ (Justice DY Chandrachud) कुछ समय के लिए डिसकनेक्ट हो गए. इस पर एक वरिष्ठ अधिवक्ता ने कहा, मुझे लगता है कि जस्टिस चंद्रचूड़ अलग (fallen off) हो गए हैं. लेकिन जब जस्टिस चंद्रचूड़ दोबारा जुड़े तो सॉलिसिटर जनरल  तुषार मेहता ने कहा, "एक गलत शब्द इस्तेमाल किया गया है, जैसे कि जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ से संपर्क टूट गया." इस पर जस्टिस चंद्रचूड़ ने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा, "अरे वो तो परमात्मा के हाथ में है."

उन्होंने जानकारी दी कि करीब 20 सेकेंड तक के लिए वह सिस्टम से लॉगआउट हो गए थे. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना की दूसरी लहर को राष्ट्रीय संकट करार दिया है और सभी सरकारों, पुलिस प्रमुखों और अन्य एजेंसियों को चेतावनी दी है कि अगर वे किसी आपात संदेश भेजने वाले को चुप कराने की कोशिश करते हैं तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. यह मानकर कि लोग गलत शिकायत कर रहे हैं, उन पर कार्रवाई नहीं की जा सकती. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com