दो भारतीयों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद G7 बैठक में वर्चुअली हिस्‍सा लेंगे विदेश मंत्री जयशंकर, ट्वीट करके दी जानकारी

सूत्रों के अनुसार, जयशंकर के साथ ब्रिटेन गए प्रतिनिधिमंडल के दो सदस्य मंगलवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गये और आगे की जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है.

दो भारतीयों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद G7 बैठक में वर्चुअली हिस्‍सा लेंगे विदेश मंत्री जयशंकर, ट्वीट करके दी जानकारी

विदेश मंत्री एस जयशंकर चार दिन की यात्रा पर ब्रिटेन पहुंचे हैं

नई दिल्ली:

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने ट्वीट किया है कि अपनी ब्रिटेन की यात्रा के दौरान वे संभावित कोविड पॉजिटिव लोगों के 'संपर्क' में आ गए हैं. ब्रिटेन की चार दिन की यात्रा के लिए जयशंकर सोमवार को लंदन पहुंचे थे, उन्‍हें यहां G7 देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्‍सा लेना था. उनका ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिट राब के साथ मिलने कार्यक्रम था, जो कि अब ऑनलाइन होगा. विदेश मंत्री के ट्वीट में कहा गया है, 'मुझे मंगलवार शाम को संभावित कोविड पॉजिटिव केस के संपर्क में आने के बारे में अवगत कराया गया है. सावधानी के तौर पर मैंने अपनी सारी बैठक, वर्चुअल मोड में करने का फैसला किया है. आज की G7 मीटिंग में भी मैं वर्चुअली ही उपस्थित रहूंगा. '

चीनी विदेश मंत्री ने एस जयशंकर को लिखा पत्र, बोले- कोरोना से लड़ाई में भारत की हरसंभव मदद करेंगे

रिपोर्टों में कहा गया है कि छोटे प्रतिनिधिमंडल में विदेश मंत्री के साथ गए दो सदस्‍य कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं. ग्रुप ऑफ 7 समिट (G7) में कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूएस और यूके के अलावा यूरोपीय यूनियन शामिल है. सूत्रों के अनुसार, जयशंकर के साथ ब्रिटेन गए प्रतिनिधिमंडल के दो सदस्य मंगलवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गये और आगे की जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है. जी-7 समूह के देशों के विदेश मंत्रियों एवं विकास मंत्रियों की बैठक में बतौर अतिथि हिस्सा लेने के लिए ब्रिटेन के विदेश मंत्री के आमंत्रण पर जयशंकर सोमवार को लंदन पहुंचे थे.


शपथ लेते ही ममता बनर्जी ने बंगाल में कोविड पर कंट्रोल के लिए लगाई पाबंदियां, पढ़ें अहम बातें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


विदेश मंत्री जयशंकर ने मंगलवार को एक ‘‘महत्वपूर्ण'' नए आव्रजन एवं आवाजाही साझेदारी समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल से मंगलवार को लंदन में मुलाकात की थी. उन्‍होंने कहा कि यह समझौता दोनों देशों के बीच मौजूदा सम्पर्क को और मजबूत करेगा.ब्रिटेन के गृह विभाग के कार्यालय के अनुसार, नये समझौते से दोनों देशों के 18 से 30 वर्ष आयु के युवाओं को पेशेवर एवं सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम के तहत 24 महीने तक के लिए एकदूसरे के देश में काम करने और रहने के लिए सुविधा मिलेगी