International Women's Day-India : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और PM मोदी ने दी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं

International Women's Day-India: दुनिया भर में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) मनाया जा रहा है. इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) और पीएम मोदी ने देश की महिलाओं को शुभकामनाएं दी.

International Women's Day-India : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और PM  मोदी ने दी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं

International Women's Day-India: दुनिया भर में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) मनाया जा रहा है

नई दिल्ली:

International Women's Day-India: दुनिया भर में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) मनाया जा रहा है. इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने देश की महिलाओं को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की बधाइयां दी हैं. उन्होंने ट्वीट किया कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी देशवासियों को मेरी हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं, हमारे देश की महिलाएं अनेक क्षेत्रों में उपलब्धियों के नए कीर्तिमान स्थापित कर रही हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपील की कि आइए आज के दिन हम सब, महिलाओं व पुरुषों के बीच असमानता पूर्णतया समाप्त करने का सामूहिक संकल्प लें. 

Read Also:  महिला दिवस आज, महिलाओं को ये खास मैसेज भेजकर कराएं स्पेशल होने का एहसासप्रधानमंत्री के अलावा

राष्ट्रपति के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने भी नारी शक्ति को सलाम किया है. ट्विटर के जरिए पीएम मोदी ने महिला सशक्तीकरण की बात करते हुए लिखा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) पर हमारी अदम्य नारीशक्ति को सलाम! भारत को हमारे देश की महिलाओं की कई उपलब्धियों पर गर्व है. उन्होंने कहा कि कई क्षेत्रों में महिला सशक्तीकरण को आगे बढ़ाने के लिए काम करने का मौका मिलना हमारी सरकार के लिए गर्व की बात है. प्रधानमंत्री मोदी अक्सर अपने संबोधनों में जिक्र करते हैं कि उनकी सरकार की विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों के केंद्र में महिलाएं हैं. इस संदर्भ में वह रसोई गैस की आपूर्ति, जन धन योजना के तहत बैंक खाते खोलना, हर घर शौचालय बनाये जाने की योजनाओं का उल्लेख करते हैं. 


Read Also: महिला दिवस पर अपनी मां, दोस्त और बहन को दें ये खास गिफ्ट्स, रिश्ते में बढ़ेगा प्यार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दरअसल साल 1908 में एक महिला मजदूर आंदोलन की वजह से महिला दिवस मनाने की परंपरा की शुरूआत हुई. इस दिन 15 हज़ार महिलाओं ने नौकरी के घंटे कम करने, बेहतर वेतन और कुछ अन्य अधिकारों की मांग को लेकर न्यूयार्क शहर में प्रदर्शन किया था. एक साल बाद सोशलिस्ट पार्टी ऑफ़ अमेरिका ने इस दिन को पहला राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित किया. 1910 में कोपेनहेगन में कामकाजी महिलाओं का एक अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन हुआ, जिसमें इस दिन को अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day)  के तौर पर मनाने का सुझाव दिया गया और धीरे-धीरे यह दिन दुनिया भर में अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में लोकप्रिय होने लगा, इस दिन को अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मान्यता 1975 में मिली, जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे एक थीम के साथ मनाने की शुरूआत की.