नौसेना विदेशों से ऑक्सीजन कंटेनर, सिलेंडर और मेडिकल उपकरण लाने में जुटी

नौसेना के नौ युद्धपोत ऑपरेशन समुद्र सेतु अभियान में लगे, तीन युद्धपोत कतर, कुवैत और सिंगापुर से सामान लाए

नौसेना विदेशों से ऑक्सीजन कंटेनर, सिलेंडर और मेडिकल उपकरण लाने में जुटी

विदेशों से कोरोना के मेडिकल उपकरण ला रहे नौसेना के युद्धपोत.

नई दिल्ली:

देश में कोरोना के कहर से लोगों को बचाने के लिए भारतीय नौसेना विदेशों से ऑक्सीजन कंटेनर, सिलेंडर और मेडिकल उपकरण लाने में जुटी है. नौसेना के नौ युद्धपोत ऑपरेशन समुद्र सेतु अभियान में लगे हुए हैं. नौसेना के तीन युद्धपोत आईएनएस कोलकाता कतर और कुवैत से, आईएनएस त्रिखंड फ्रांस की मदद से कतर से और आईएनएस ऐरावत सिंगापुर से लिक्विड ऑक्सीजन, सिलेंडर और क्रिटिकल मेडीकल उपकरण लेकर देश के बंदरगाह पर पहुंचे. 


नौसेना का युद्दपोत आईएनएस ऐरावत आठ खाली क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक, 3600 खाली ऑक्सीजन सिलेंडर, 500 भरे हुए सिलेंडर, सात ऑक्सीजन कन्संट्रेटर, 10 हजार रैपिड इन्टीजेन टेस्ट किट और 450 पीपीई किट के साथ विशाखापट्टनम पहुंचा. वहीं युद्दपोत आईएनएस त्रिखंड लिक्विड ऑक्सीजन क्रायोजेनिक कंटेनर, 40 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर मुंबई पहुंचा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नौसेना का ही आईएनएस कोलकाता 400 बोटल सिलेंडर, 27 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन और 47 कन्संट्रेटर लेकर न्यू मंगलौर पहुंचा. नौसेना का युद्धपोत आईएनएस तलवार पहले ही 54 लिक्विड ऑक्सीजन बहरीन से लेकर मंगलौर पहुंच गया था. इस मुश्किल हालात में लोगों की सांसों को बचाने के लिए नौसेना के युद्धपोत देवदूत बने हुए हैं.