कोरोना के बढ़ते ट्रेंड ने दिखाया कि वायरस अभी भी शक्तिशाली, तेजी से किया पलटवार : वीके पॉल

Coronavirus Cases india : स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 10 ज़िले जहां सबसे ज्यादा केस हैं, उनमें 8 महाराष्ट्र और 1-1 दिल्ली और कर्नाटक से है. देश का वीकली पॉजिटिविटी रेट करीब साढ़े 5 के आसपास है. वहीं महाराष्ट्र में काफी ज्यादा है. 

कोरोना के बढ़ते ट्रेंड ने दिखाया कि वायरस अभी भी शक्तिशाली, तेजी से किया पलटवार : वीके पॉल

Corona Virus Cases Today India : कोरोना वायरस को लेकर वीके पॉल ने दी जानकारी

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों (Corona Virus Cases India) को लेकर कोविड टॉस्कफोर्स ने चिंता जताते हुए कहा है कि महामारी की हालत बद से बदतर हो रही है, यह हमारे लिए गंभीर चिंता का विषय है. नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल (Niti Aayog VK Paul) ने कहा कि ट्रेंड से पता चलता है कि वायरस अभी भी बेहद सक्रिय है और हमारे सुरक्षा चक्र में प्रवेश कर रहे हैं. जब हम ये सोच रहे थे कि हम इसे नियंत्रण में ला सकते हैं, उसी वक्त उसने जबरदस्त जवाबी हमला किया. 

भारत में अब तक कोरोना के 11,064 जीनोम सैंपल (Genome sequencing) की सीक्वेंसिंग की गई है, इसमें यूके वैरिएंट(UK variant) 807 में मिले हैं, जबकि 47 में दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट (South African Variant) और एक में ब्राजील का वैरिएंट मिला है. पॉल ने यह भी कहा कि कोवैक्सिन (Covaxin) और कोविशील्ड (Covishield) दोनों ही कोरोना वायरस के ब्रिटेन, ब्राजील के रूपों के खिलाफ कारगर है. 

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 10 ज़िले जहां सबसे ज्यादा केस हैं, उनमें 8 महाराष्ट्र और 1-1 दिल्ली और कर्नाटक से है. देश का वीकली पॉजिटिविटी रेट करीब साढ़े 5 के आसपास है. वहीं महाराष्ट्र में काफी ज्यादा है. मंत्रालय ने कहा कि कोरोना के टेस्ट बढ़ाने की जरूरत है.जिन राज्यों में ज्यादा कोरोना के मामले आ रहे हैं, उनसे शनिवार को बात की गई और सुझाव दिया गया. रैपिड टेस्ट का इस्तेमाल घनी आबादी और क्लस्टर में करने को कहा गया है. आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR) को 70% तक करना जरूरी है.ज्यादा राज्यों में आइसोलेशन नहीं हो रहा है. 

क्लोज कांटैक्ट ट्रेसिंग बेहद अहम
क्लोज कॉन्टैक्ट की ट्रेसिंग 3 दिनों के भीतर की जानी चाहिए जो सिर्फ परिवार तक सीमित नहीं हो. इसमें जानना होगा कि कौन कहां काम करता है, कहां सब्जी, फल खरीदता था, ये सभी क्लोज कॉन्टैक्ट के दायरे में आते हैं.निजी अस्पताल को नॉन Covid अस्पताल घोषित किया था, क्योंकि मामले कम आ रहे थे. राज्यों से फिर आग्रह किया गया है कि Covid डेडीकेटेड हॉस्पिटल घोषित किया जाए. अगर जरूरत पड़े तो हेल्थकेयर वर्कर की संख्या बढ़ाएं. राज्यों से कहा गया है कि वे कोविड से जुड़े नियमों का पालन सुनिश्चित करें.


टीकाकरण के ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन को शाम को जाएं
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने टीकाकरण पर कहा कि सीधे साइट पर रजिस्ट्रेशन के लिए 3 बजे के बाद जाना सही होगा, क्योंकि इससे पहले वो लोग होंगे, जिन्होंने ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले रखा है. अगर पहले चले जाएंगे तो बैठना पड़ेगा. वैक्सीनेशन के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने 47 लाख 57 हजार लोगों से राय ली है, जिसमें लोगों से कुछ सवाल पूछे गए और  97 फीसदी लोग संतुष्ट रहे. वीके पॉल ने कहा कि कोरोना के मामलों का बढ़ना चिंता का विषय है. कभी मामले 9 हज़ार के पास थे और अब 6 गुना तक ज्यादा बढ़े हैं. जहां मामले बढ़ रहे हैं, सिर्फ वहीं नहीं बल्कि सभी राज्यों को ध्यान देना होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोना का कोई भारतीय वैरियंट नहीं
बिना कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और आइसोलेशन के संक्रमण की चेन को रोकना मुमकिन नहीं है. कंटेनमेंट पर भी ध्यान देना जरूरी हैं. हम एक गंभीर स्थिति का सामना कर रहे हैं. ICU और एंबुलेंस आदि की व्यवस्था दोबारा सक्रिय करनी पडे़गी. आईसीएमआर के निदेशक बलराम भार्गव ने कहा कि कोरोना के दूसरे देशों से आए रूप यानीयूके वैरियंट, साउथ अफ्रीकन वैरियंट और ब्राजील वैरियंट पर कोविशील्ड और कोवैक्सीन असरदार है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि कोई भी इंडियन वैरियंट नही है. वायरस में म्यूटेशन हुआ है, लेकिन इंडियन वैरियंट नहीं पाया गया है.