मुंबई में जुहू बीच से दिल्ली की सरोजनी नगर मार्केट तक भारी भीड़, नियमों की उड़ रही धज्जियां

दिल्ली, मुंबई जैसे महानगरों में यह भीड़ तब दिखाई दे रही है, जब कोरोना और इसके ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. शनिवार के दिन दिल्ली में कोरोना संक्रमित 249 मरीज़ पाए गए थे, जो छह माह में सर्वाधिक हैं.

मुंबई में जुहू बीच से दिल्ली की सरोजनी नगर मार्केट तक भारी भीड़, नियमों की उड़ रही धज्जियां

नाइट कर्फ्यू का ऐलान दिल्ली, महाराष्ट्र और यूपी में किया गया है

नई दिल्ली/मुंबई:

कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variant) के बढ़ते खतरे को देखते हुए भले ही दिल्ली, महाराष्ट्र, हरियाणा समेत कई राज्य सरकारों ने क्रिसमस के बाद नए साल के जश्न को लेकर भी नई पाबंदियां लगा दी हों, लेकिन हर जगह भारी भीड़ कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाते हुए दिख रही है. मुंबई के जुहू बीच (Mumbai Juhu Beach) पर शनिवार को क्रिसमस के दिन ऐसा ही नजारा नजर आया. जहां सुबह से लेकर शाम तक समुद्र तट पर हजारों का हुजूम बेखौफ सैर सपाटा करता नजर आया. इसमें से बिना मास्क पहने हुए भी तमाम लोग थे. ऐसा ही कुछ नजर कुछ दिनों पहले दिल्ली की मशहूर सरोजिनी नगर मार्केट ( Sarojini Nagar Market in Delhi) में भी देखने को मिला था, जब मार्केट में बना मास्क खरीदारी करते हुए लोगों का हुजूम सुर्खियों में था. इसके बाद 26 और 27 दिसंबर के लिए यहां ऑड ईवन का फार्मूला भी लागू किया गया था. 

लोगों की भीड़ दिल्ली, मुम्बई जैसे महानगरों सहित उत्तर प्रदेश के चुनाव प्रचार की रैलियों और जनसभाओं में उमड़ रही है. नियम बनाने और लागू कराने वाली प्रशासनिक एजेंसियां भी मूकदर्शक बनकर ये सब खामोशी से देख रही हैं. मुम्बई हो या दिल्ली, क्रिसमस और नए साल के छुट्टियों के बीच दोनों जगहों पर कोरोना के नियमों का उल्लंघन होता नज़र आ रहा है. मुंबई में 31 दिसंबर तक धारा 144 लागू होने के बावजूद शनिवार शाम जुहू चौपाटी पर बड़े पैमाने में लोग नज़र आए, न ही सोशल डिस्टेंसिंग दिखी, और ना ही कोरोना के नियमों का पालन. दिल्ली के सरोजिनी नगर बाज़ार में भारी भीड़ का वीडियो सामने आने के बाद प्रशासन ने ऑड इवन के आधार पर दुकानों को खोलने  के आदेश दिए.

ओमिक्रॉन के बढ़ते केस के बीच सरोजिनी नगर मार्केट में नियमों की उड़ी धज्जियां, भीड़ का Video वायरल

इन महानगरों में यह भीड़ तब दिखाई दे रही है, जब कोरोना और इसके ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. शनिवार के दिन दिल्ली में कोरोना संक्रमित 249 मरीज़ पाए गए थे, जो 13 जून के बाद एक दिन में सबसे ज़्यादा मामले हैं. मुम्बई में शनिवार के दिन 757 कोरोना संक्रमित मरीज़ मिले थे. ये 24 जून के बाद एक दिन में यह सबसे ज़्यादा केस हैं.
उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी तक सभी चुनावी रैलियां करते नज़र आ रहे हैं.

प्रियंका गांधी के आह्वान पर UP सरकार के आदेश को धता बता मैराथन में उमड़ी युवतियां

जबकि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए यूपी में 25 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. लेकिन सरकारी अमला ही रैलियों को सफल बनाने की कवायद में जुटा है. हाल ही में पीएम मोदी के रैलियों में भी भीड़ नज़र आई, तो वहीं शनिवार रात देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री लोगों से नियमों का पालन करने की बात करते नज़र आए. उन्होंने कहा था, मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि घबराएं नहीं, सावधान रहें, सतर्क रहें, मास्क का भरपूर उपयोग करें और हाथों को थोड़ी थोड़ी देर में धुलना, इन बातों को हमें भूलना नहीं है.

रविवार सुबह कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से आयोजित लड़की हूं, लड़ सकती हूं अभियान के तहत मैराथन का आयोजन किया गया. इसमें बड़े पैमाने पर युवतियां बिना मास्क नजर आईं. भीड़ के बारे में जब कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला से पूछा गया, तो उन्होंने 2 जनवरी को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक कार्यक्रम का हवाला देते हुए कहा कि यूपी सरकार पीएम के कार्यक्रम के लिए 25 हज़ार खिलाड़ियों को इकट्ठा कर रही है लेकिन कांग्रेस के कार्यक्रमों को रोका जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोना के दूसरी लहर में अस्पतालों की हालत और बड़े पैमाने में लोगों की हुई मौत के बाद यह सोचा जा रहा था कि भविष्य में नियमों का पालन सही तरीके से किया जाएगा, लेकिन साल खत्म होते होते सभी जगहों पर भीड़ दिखाई देने लगी है, वो भी तब, जब देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट तेज़ी से पैर पसार रहा है.