गुरमीत राम रहीम हुए कोरोना पॉजिटिव, हनीप्रीत ने बनवाया अस्पताल में अटेंडेंट का पास

बलात्कार मामले में सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जिसके बाद वह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाए गए हैं.

गुरमीत राम रहीम हुए कोरोना पॉजिटिव, हनीप्रीत ने बनवाया अस्पताल में अटेंडेंट का पास

गुरमीत राम रहीम की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव

गुरुग्राम:

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख और रेप मामले में सजा काट रहा गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) का कोविड टेस्ट पोजिटिव आया है. गुरमीत को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. हनीप्रीत ने गुरमीत राम रहीम से अस्पताल में मुलाकात भी की. दरअसल, गुरमीत राम रहीम को दो दिन पहले तबीयत खराब होने के चलते PGI रोहतक भेजा गया था, जहां उसका कोविड टेस्ट के लिए सैंपल लिया गया. आज उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जिसके बाद उन्हें मेदांता में भर्ती किया गया.राम रहीम की विश्वसनीय हनीप्रीत को मुलाकात की इजाजत मिली है. वह गुरमीत राम रहीम के साथ गुरुग्राम के अस्पताल में 15 जून तक अटेंडेंट के रूप में रहेंगी. वह रविवार रात अस्पताल पहुंची और अटेंडेंट का कार्ड बनवाया.

इससे पहले गुरमीत राम रहीम की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें पीजीआई रोहतक (PGI Rohtak) में भर्ती कराया गया था. राम रहीम को पेट मे दर्द की शिकायत थी. इससे पहले 12 मई को भी ब्लड प्रेशर की समस्या के कारण राम रहीम को पीजीआई लाया गया था. 


गौरतलब है कि इससे पूर्व 48 घंटे की पैरोल पर गुरमीत राम रहीम सिंह अपनी बीमार मां से मिलने गुरुग्राम के एक अस्पताल में पहुंचा था. राम रहीम अपनी दो महिला शिष्यों से दुष्कर्म के मामले में 2017 से रोहतक की जेल में सजा काट रहा है. दुष्कर्म के मामले में उसे 20 साल के कारावास की सजा सुनाई गई है. राम रहीम ने अपनी बीमार मां नसीब कौर से मिलने के लिए 21 दिन की पैरोल मांगी थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं  इससे पहले भी हनीप्रीत ने गुरमीत से सुनारिया जेल में मिल चुकी है.अधिकारियों के मुताबिक उस समय हनीप्रीत के साथ एक वकील और डेरे का एक कर्मी था. हनीप्रीत ने करीब 40 मिनट तक ये बातचीत की थी. हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है. उन्हें पंचकूला हिंसा मामले में महीने भर पहले ही जमानत मिली है.