"उम्मीद है, CM योगी वादा पूरा करेंगे" : पुलिस की कथित पिटाई से मारे गए मनीष गुप्ता की पत्नी

मीनाक्षी ने सीएम से मुलाकात के बाद राहत की सांस ली है लेकिन कहा है कि वो तब तक लड़ाई लड़ती रहेंगी, जब तक कि उन्हें न्याय नहीं मिल जाता है. जब उनसे पूछा गया कि क्या मनीष की मौत पर पुलिस लीपापोती कर रही है तो वो बिफर पड़ीं.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर के एक होटल में कारोबारी मनीष गुप्ता (Manish Gupta) की मौत के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की है. उन्होंने कारोबारी की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता को कानपुर विकास प्राधिकरण में सरकारी नौकरी और केस ट्रांसफर कराने का भरोसा दिलाया है. 

NDTV से बातचीत में मीनाक्षी गुप्ता ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सीएम छोटी बहन को न्याय दिलाएंगे. उन्होंने बताया कि सीएम ने उन्हें 10 लाख रुपये का चेक भी सौंपा है और कहा है कि 40 लाख रुपये जल्द ही मिल जाएंगे. मीनाक्षी ने सीएम से मुलाकात के बाद राहत की सांस ली है लेकिन कहा है कि वो तब तक लड़ाई लड़ती रहेंगी, जब तक कि उन्हें न्याय नहीं मिल जाता है.

'चोटों की वजह से हुए थे बेहोश' : गोरखपुर पुलिस की कथित पिटाई से मारे गए शख्स की ऑटोप्सी में हुआ खुलासा

जब उनसे पूछा गया कि क्या मनीष की मौत पर पुलिस लीपापोती कर रही है तो वो बिफर पड़ीं. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर वो ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहती हैं लेकिन इसे सभी लोगों ने देखा कि पुलिस ने कैसी बर्बरता की है. मीनाक्षी ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ हो गया है कि पुलिस ने मनीष के साथ बर्बरता की जिसकी वजह से उनकी मौत हुई है. उन्होंने कहा कि पब्लिक समझदार है, वो सभी बातों को समझती है.

गोरखपुर कांड : मनीष गुप्ता के परिवार को केस न करने की सलाह देते दिखे अधिकारी, कथित वीडियो वायरल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मीनाक्षी ने फिर कहा कि उन्हें भरोसा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस मामले में जल्द से जल्द न्याय दिलाएंगे. इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी उनसे मुलाकात की थी.