गाजियाबाद पुलिस ने सुलझाई परिवार के 4 लोगों के कत्ल की गुत्थी, पैसा बनी हत्या की वजह

पुलिस ने जब इस मामले की जांच की और सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक की तो पता चला कि हत्याकांड के पीछे कोई और नहीं बल्कि रईसुद्दीन का भतीजा अय्यूब है.

गाजियाबाद पुलिस ने सुलझाई परिवार के 4 लोगों के कत्ल की गुत्थी, पैसा बनी हत्या की वजह

पुलिस ने अय्यूब को गिरफ्तार कर लिया है.

खास बातें

  • पुलिस ने सुलझाई कत्ल की गुत्थी
  • मृतक रईसुद्दीन का भतीजा अरेस्ट
  • पैसों की वजह से वारदात को दिया अंजाम
गाजियाबाद:

गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने लोनी में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले को सुलझा लिया है. पुलिस ने मृतक के भतीजे को गिरफ्तार किया है. सोमवार सुबह करीब 3 बजे लोनी के टोली मोहल्ला में कपड़ा कारोबारी 70 साल के रईसुद्दीन, उनके बेटों इमरान और अजहर और पत्नी फातिमा की गोली मार हत्या कर दी गई थी, जबकि घर में मौजूद अफसाना बच गई थी क्योंकि गोली मारने वाले की पिस्टल में कारतूस फंस गया था. जब पुलिस मौके पर पहुंची तो घरवालों ने बताया कि 6-7 लोग छत के रास्ते आए थे और हत्याकांड को अंजाम देकर, लूटपाट कर छत के रास्ते ही चले गए.

पुलिस ने जब इस मामले की जांच की और सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक की तो पता चला कि हत्याकांड के पीछे कोई और नहीं बल्कि रईसुद्दीन का भतीजा अय्यूब है. पुलिस ने अय्यूब को गिरफ्तार कर लिया. अय्यूब ने पूछताछ में बताया कि वो कबाड़ का कारोबार करता है लेकिन वो काफी लंबे समय से आर्थिक तंगी से जूझ रहा था.

आंध्र प्रदेश : एक शख्स ने अपने दो भतीजों को पीट-पीटकर मार डाला, आरोपी गिरफ्तार

उसने अपने चाचा रईसुद्दीन से 10 लाख रुपये मांगे थे लेकिन वह उसे पैसे नहीं दे रहे थे जबकि उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी थी. सोमवार तड़के जब वह वॉशरूम जाने के लिए उठा तो एक बार फिर उसने रईसुद्दीन से पैसों की मांग की. जब पैसे नहीं मिले तो उसने सबसे पहले चाचा को गोली मारी, फिर जो सामने आता गया, गोली मारता गया.

इसके बाद वह घर से भाग गया और उसने अपनी खून लगी शर्ट में पिस्टल छिपाकर एक नाले में डाल दी. पुलिस ने पिस्टल और शर्ट भी बरामद कर ली है. पुलिस के मुताबिक, आरोपी का छीनाझपटी में एक बटन भी टूट गया था. अब पुलिस पता लगा रही है कि अय्यूब पिस्टल कहां से लाया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: पुलवामा : आतंकियों ने की SPO और पत्नी की हत्या