Exclusive: जो कोरोना वैक्सीन लेकर भी हुए कोविड-पॉज़िटिव, उन पर निगरानी रखेगा स्वास्थ्य मंत्रालय, बदले ये नियम

अब एक नया बदलाव करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने टीका लेने के बाद पॉजिटिव होने वाले लोगों को लेकर COVID19 के सैंपल टेस्ट के फार्म में नया कॉलम जोड़ा है. मंत्रालय यह पता लगाने की कोशिश कर रहा है कि देश में टीका लेने के बाद कितने लोग पॉजिटिव हुए हैं. 

नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीनेशन ड्राइव जोरों पर है. स्वास्थ्य मंत्रालय कोरोना के मामलों में बढ़ती तेजी को देखते हुए कई और कदम उठा रहा है. ऐसे में इसके तहत एक बड़ा कदम उठाया गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय अब यह पता लगाने की कोशिश कर रहा है कि देश में टीका लेने के बाद कितने लोग पॉजिटिव हुए हैं. 

अब एक नया बदलाव करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने टीका लेने के बाद पॉजिटिव होने वाले लोगों को लेकर COVID19 के सैंपल टेस्ट के फार्म में नया कॉलम जोड़ा है. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय के पास पता करने का कोई जरिया नहीं था कि टीका लेने के बाद कोई पॉजिटिव हो रहा है या नहीं. कई जगहों से टीका लेने के बाद पॉजिटिव होने की खबरों के बाद ये व्यवस्था की गई है.

अब लोगों को सैंपल रेफरेंस फॉर्म में यह बताना होगा कि क्या उन्होंने कोरोना का टीका लिया है? Covaxin या Covishiled, कौन सा टीका लिया है, ये जानकारी देनी होगी. टीका लेने की तारीख भी बतानी होगी. ये भी जानकारी देनी होगी कि पहला डोज कब और दूसरा अगर लिया है तो कब.

o0dbg9b

बता दें कि देश में कुछ स्वास्थ्यकर्मियों और वैक्सीन के आम लाभार्थियों में यह देखने को मिला था कि वो वैक्सीन लेने के बाद भी पॉजिटिव हुए हैं. हालांकि, स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना था कि वैक्सीन लेने के बाद इसका असर एक-दो हफ्तों में शुरू होता है, वहीं, मरीज ने दूसरी डोज़ भी ली है या नहीं. इस बात पर भी यह समस्या निर्भर करती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


देश में वैक्सीनेशन की स्पीड बढ़ाई जा रही है. पिछले 24 घंटों में वैक्सीन के 33 लाख डोज दिए गए हैं, जिसके बाद देश में अब तक कुल 8.7 करोड़ डोज दिए जा चुके हैं. फिलहाल भारत में कोवैक्सीन और कोविशील्ड की वैक्सीन दी जा रही है.