'पहले प्लेन की मरम्मत कराएं'- यात्री की शिकायत पर DGCA ने Air India को दिए निर्देश

अधिकारियों ने कहा कि सोमवार को एक यात्री ने सोशल मीडिया पर एयर इंडिया के एयरबस ए320 विमान के टूटे हुए आर्मरेस्ट सहित जर्जर इंटीरियर की कुछ तस्वीरें पोस्ट कीं थी. जिसके आधार पर डीजीसीए ने एयरलाइन को जल्द से जल्द समस्या की जांच करने को कहा है.

'पहले प्लेन की मरम्मत कराएं'- यात्री की शिकायत पर DGCA ने Air India को दिए निर्देश

टाटा समूह ने 27 जनवरी को एयर इंडिया का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था.

नई दिल्ली:

विमानन नियामक नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने टाटा समूह के स्वामित्व वाली एयर इंडिया को अपने विमान की मरम्मत करने का आदेश दिया है. अधिकारियों ने कहा कि सोमवार को एक यात्री ने सोशल मीडिया पर एयर इंडिया के एयरबस ए320 विमान के टूटे हुए आर्मरेस्ट सहित जर्जर इंटीरियर की कुछ तस्वीरें पोस्ट कीं थी. जिसके आधार पर डीजीसीए ने एयरलाइन को जल्द से जल्द समस्या की जांच करने और उसे ठीक करने के लिए कहा है. विमान सोमवार रात कोलकाता में था और यहां पर ही मरम्मत का काम किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- "हत्‍या का था इरादा": कस्तूरबा नगर सामूहिक बलात्कार मामले में पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट 

वहीं इस पूरे मामले पर अभी तक एयर इंडिया कंपनी की ओर से कोई बयान नहीं आया है.बता दें कि पिछले साल 8 अक्टूबर को एयरलाइन के लिए सफलतापूर्वक बोली जीतने के बाद, टाटा समूह ने 27 जनवरी को एयर इंडिया का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था.

रोकी गई थी स्पाइस जेट की उड़ान

कुछ दिनों पहले ही यात्री की ओर से गंदी सीटों और कैबिन पैनल के ठीक से काम नहीं करने की शिकायत किए जाने पर डीजीसीए ने स्पाइसजेट के विमान की उड़ान पर रोक लगा दी थी. जिसके बाद कंपनी ने विमान की मरम्मत की. तब जाकर उसने उड़ान भरी. दरअसल बेंगलुरु से गुवाहाटी जाने वाले विमान में यात्रा कर रहे यात्री ने गंदी सीटों और कैबिन पैनल के ठीक से कम नहीं करने की तस्वीर ट्वीट की थी. इसपर संज्ञान लेते हुए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बोइंग 737 विमान के उड़ान भरने पर रोक लगाने का आदेश दिया था. हालांकि, विमानन कंपनी द्वारा नियामक के सुझाव के अनुरूप सभी मरम्मत कार्य कराए जाने के बाद विमान ने एक दिन बाद फिर से उड़ान भरी.

घटना की पुष्टि करते हुए स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने कहा था कि, ‘‘ स्पाइसजेट बोइंग 737 विमान 19 अप्रैल को अपराह्न तीन बजकर 40 मिनट पर बेंगलुरु हवाई अड्डे पर जैसे ही उतरा , डीजीसीए के निर्देश के अनुरूप कैबिन के आंतरिक हिस्से में मरम्मत का कार्य कराया गया.'' प्रवक्ता ने बताया कि डीजीसीए की मंजूरी के बाद विमान ने 20 अप्रैल को दोबारा अपनी उड़ान भरी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दिल्ली में मंदिर तोड़ने के नोटिस को लेकर आमने-सामने आई 'आप' और बीजेपी