बॉलीवुड फिल्म दृश्यम देखकर पैरोल पर बाहर शख्स ने रच डाली पड़ोसी को फंसाने की साजिश

अमरपाल ने साथियों को बॉलीवुड फिल्म दृश्यम दिखाई. कहानी और दृश्यों को ऐसे री-क्रिएट करने की योजना बनाई की पड़ोसी ही फंस जाएं. इस योजना के तहत उसने लोगों को पहले ही बताना शुरू कर दिया कि उसे ओमबीर के परिवार द्वारा धमकाया जा रहा है.

बॉलीवुड फिल्म दृश्यम देखकर पैरोल पर बाहर शख्स ने रच डाली पड़ोसी को फंसाने की साजिश

Delhi News: एक शख्स ने बॉलीवुड फिल्म दृश्यम देखकर पड़ोसी को फंसाने की साजिश रची

नई दिल्ली:

फिल्मों से प्रभावित होकर बहुत से लोग अपने गम भूलकर कल्पना की दुनिया में खो जाते हैं तो कुछ लोग फिल्मों से प्रभावित होकर क्राइम भी करते हैं.  दिल्ली में एक शख्स ने अजय देवगन और तब्बू के अभिनय से सजी 'दृश्यम' फिल्म से प्रभावित होकर अपने पड़ोसी के खिलाफ साजिश रचते हुए खुद पर हमला किया. दरअसल, जिस पड़ोसी के खिलाफ उसने साजिश रची उसी की मां की हत्या के मामले में वह जेल में बंद ये शख्स जमानत पर बाहर था.

उत्तरी दिल्ली के मजनू का टीला निवासी अमरपाल की अपने पड़ोसी ओमबीर के परिवार से एक छोटी-सी बात को लेकर दुश्मनी हो गई थी. 29 जून को पड़ोसियों के बीच लड़ाई के बाद अमरपाल ने अन्य लोगों के साथ मिलकर ओमबीर की मां की कथित तौर पर हत्या कर दी थी. हत्या के मामले में गिरफ्तार कर अमरपाल को जेल भेज दिया गया था. इसके बाद वह 60 दिनों के लिए पैरोल पर जेल से बाहर आया था.

पुलिस के मुताबिक जेल से बाहर आने के बाद उसने गवाहों पर दबाव बनाने की कोशिश की, लेकिन जब वह विफल रहा तो उसने पड़ोसियों को झूठे मामले में फंसाने का फैसला किया. उसने अपने उसने अपने भाई गुड्डू और चचेरे भाई अनिल के साथ एक योजना बनाई.

उसने साथियों को बॉलीवुड फिल्म दृश्यम दिखाई. कहानी और दृश्यों को ऐसे री-क्रिएट करने की योजना बनाई की पड़ोसी ही फंस जाएं. इस योजना के तहत उसने लोगों को पहले ही बताना शुरू कर दिया कि उसे ओमबीर के परिवार द्वारा धमकाया जा रहा है.

अमरपाल ने एक देसी पिस्तौल और गोली के छर्रे का भी इंतजाम किया ताकि खुद पर ही किया गया हमला जानलेवा न हो जाए. अनिल ने इस योजना में अपने साले मनीष को भी शामिल किया. उन्होंने तय किया कि अनिल ही अमरपाल पर गोली चलाएगा, जो कि पुलिस को बताएगा कि घटना के पीछे ओमबीर और उसके परिवार के सदस्य हैं.


पुलिस ने बताया कि घटना को अंजाम देने के लिए उसने नॉर्थ दिल्ली के खैबर पास को चुना. वह अक्सर यहां आता-जाता रहता है. यहां कई लोग उसे जानते थे, जो इस कहानी की बाद में पुष्टि करते. खैर अमरपाल खैबर पास गया और वहां एक घंटे से अधिक समय बिताया. बाद में उसने योजना को अंजाम देने के लिए गुड्डू को बुलाया. गुड्डू, अनिल और मनीष मौके पर पहुंच गए थे. अनिल ने अमरपाल पर फायर किया और भाग गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकारी ने बताया कि घायल होने के बाद अमरपाल अपने दोस्त के यहां गया और कहा कि उसके दुश्मनों ने उसे मारने की कोशिश की.गाजियाबाद निवासी अनिल (30) को हिरासत में लिया गया. पुलिस ने कहा कि गुड्डू और मनीष की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)