कोविड के डर से दिल्ली में नई पाबंदियां लागू, लेकिन बसें, मेट्रो चलेंगी पूरी क्षमता के साथ

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में अब शनिवार और रविवार को वीकेंड कर्फ्यू रहेगा. लोगों से अपील है कि बहुत जरूरत होने पर ही या इमरजेंसी होने पर ही बाहर निकलें.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोविड-19 (Coronavirus) और उसके नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के मामलों में उछाल से चिंताएं बढ़ गई हैं. कोविड के खौफ के बीच दिल्ली में नई पाबंदियां लागू की जा रही हैं. हालांकि, पब्लिक ट्रांसपोर्ट बसें और मेट्रो पूरी क्षमता के साथ चलेंगी. सरकार ने लोगों से कहा है कि घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि बसें और मेट्रो 100 प्रतिशत क्षमता के साथ चलेंगी, लेकिन कोविड सुरक्षा नियमों- जैसे सामाजिक दूरी और मास्क पहनने- का कड़ाई से पालन करना होगा. 

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दिल्ली में अब शनिवार और रविवार को वीकेंड कर्फ्यू रहेगा. लोगों से अपील है कि बहुत जरूरत होने पर ही या इमरजेंसी होने पर ही बाहर निकलें.

उन्होंने कहा कि सभी सरकारी दफ्तरों में एसेंशियल सर्विसेज को छोड़कर बाकी सब वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) करेंगे. प्राइवेट दफ़्तर यानी निजी कार्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ काम करेंगे यानी 50 फ़ीसदी कैपेसिटी ऑनलाइन रखें और 50% ऑफलाइन रखें.

READ ALSO: दिल्ली में लागू होगा वीकेंड कर्फ़्यू, DDMA की बैठक में लिया गया फैसला

दिल्ली में सोमवार को पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के करीब 4000 मामले सामने आए हैं और पॉजिटिविटी 6.5 फीसदी के करीब है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने यह जानकारी दी थी. उन्होंने कहा कि जितने भी केस आ रहे हैं, उनमें हॉस्पिटल की बहुत कम जरूरत पड़ रही है. घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन सतर्क जरूर रहें.

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) के ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के अनुसार, लगातार दो दिनों तक पॉजिटिविटी रेट का 5 प्रतिशत से ज्यादा रहना रेड अलर्ट घोषित करने के मानदंडों में से एक है. रेड अलर्ट का मतलब है कि टोटल कर्फ्यू और अधिकांश आर्थिक गतिविधियों पर रोकना होगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: दिल्‍ली में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला