वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार अलर्ट, पर्यावरण मंत्री ने NCRTC की निर्माण साइट पर लगाया 50 लाख का जुर्माना

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने इस शीतऋतु में शहर में प्रदूषण के स्तर पर निगरानी के लिए दिल्ली सचिवालय में ‘हरित वॉर रूम' (Green War Room) का 8 अक्टूबर को उद्घाटन किया था.

वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार अलर्ट, पर्यावरण मंत्री ने NCRTC की निर्माण साइट  पर लगाया 50 लाख का जुर्माना

नई दिल्ली:

दिल्ली में हर साल सर्दियां शुरू होते है होने वाले वायु प्रदूषण (Air Pollution) को लेकर केजरीवाल सरकार पहले से ही सतर्कता बरत रही है. राष्ट्रीय राजधानी की सरकार द्वारा कंस्ट्रकशन साइटों का निरीक्षण कर वहां हो रही लापरवाही पर कार्रवाई की जा रही है. दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कस्तूरबा नगर में नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन यानि एनसीआरटीसी (NCRTC) की निर्माण साइट पर नियमों की अनदेखी के लिए 50 लाख का जुर्माना लगाने के निर्देश दिए हैं.

बता दें कि दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने इस शीतऋतु में शहर में प्रदूषण के स्तर पर निगरानी के लिए दिल्ली सचिवालय में ‘हरित वॉर रूम' (Green War Room) का 8 अक्टूबर को उद्घाटन किया था. मंत्री ने कहा था कि प्रारंभिक प्रदूषकों की निगरानी,प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए उठाए गए कदमों और मोबाइल ऐप ‘दिल्ली ग्रीन'के जरिए प्राप्त हुई शिकायतों पर की गई कार्रवाई की जानकारी के लिए 10 सदस्यीय दल गठित किया गया है. पड़ोसी राज्यों में खेतों में पराली जलाने से संबंधित आंकडों की भी समीक्षा ‘वॉर रूम' में की जाएगी.

यह भी पढ़ें- दिल्ली, एनसीआर में वायु प्रदूषण नियंत्रण योजना 15 अक्टूबर से प्रभावी होगी

राय ने कहा था कि दिल्ली में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने की दिशा में कई एजेंसियां काम कर रही हैं. उनके बीच समन्वय स्थापित करने के लिए ‘हरित वॉर रूम' बनाया गया है. उन्होंने कहा कि नियंत्रण कक्ष निर्माण और विध्वंस स्थलों, सीमेंट संयंत्रों और कचरा जलाने पर धूल प्रदूषण को समाप्त करने के लिए दिशानिर्देशों को सख्ती से लागू करना सुनिश्चित करने की दिशा में काम करेगा.

उन्होंने कहा था, ‘‘ धूल विरोधी यह अभियान 15 अक्टूबर तक मिशन मोड में जारी रहेगा और इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.'' उन्होंने कहा कि प्राप्त शिकायतों और शिकायतों के निवारण की दैनिक रिपोर्ट मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भेजी जाएगी. (इनपुट एजेंसी भाषा से भी)


लॉकडाउन के बाद भी वायु गुणवत्ता को बरकरार रखने की जरूरत : सुनीता नारायण

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com