छठ पूजा पर भी कोरोना का साया, दिल्ली में इस बार सार्वजनिक स्थलों पर नहीं मनाया जाएगा त्योहार

दिल्ली में इस साल छठ पूजा का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नही किया जाएगा, हालांकि भक्त अपने-अपने घरों में या किसी निजी स्थल पर छठ पर्व मना सकेंगे. इस दौरान कोविड-19 दिशा-निर्देशों का पालन करना जरूरी होगा.

छठ पूजा पर भी कोरोना का साया, दिल्ली में इस बार सार्वजनिक स्थलों पर नहीं मनाया जाएगा त्योहार

दिल्ली में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के चलते छठ पूजा को लेकर फैसला. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus : दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इस साल छठ पूजा का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नही किया जाएगा, हालांकि भक्त अपने-अपने घरों में या किसी निजी स्थल पर छठ पर्व मना सकेंगे. छठ पर्व के लिए कोविड-19 दिशा-निर्देशों का पालन करना जरूरी होगा. DDMA (Delhi Disaster Management Authority) की ओर से इससे संबंधित आदेश जारी किया गया है.

आदेश के मुताबिक दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक स्थल, सार्वजनिक ग्राउंड, घाट और मंदिर में नवंबर के महीने में छठ पूजा का आयोजन नहीं किया जाएगा. सभी जिलों के डीएम और डीसीपी को आदेश का पालन सुनिश्चित कराने को कहा गया है. इसके साथ ही शांति सौहार्द और कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए सभी डीएम और डीसीपी को निर्देश दिया गया है कि वो छठ के त्योहार से पहले अपने इलाकों के धार्मिक और सामाजिक लीडर्स, छठ पूजा समितियों के साथ मीटिंग करें.

यह भी पढ़ें : दिल्ली : अरविंद केजरीवाल का केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र, कोरोना को लेकर की ये मांग

हर वर्ष धूमधाम से मनाए जाने वाले इस पर्व की रौनक इस साल फीकी रहेगी. कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर इस साल छठ पूजा का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नहीं किया जाएगा. छठ पर्व बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में लाखों लोगों द्वारा मनाया जाता है.

इस साल छठ पर्व 18 नवंबर से 21 नवंबर तक मनाया जाएगा. 18 नवंबर को इसकी शुरुआत होगी, इस दिन नहाय खाय, 19 नवंबर को खरना, 20 नवंबर को संध्या अर्घ्य और 21 नवंबर की सुबह उषा अर्घ्‍य के साथ इसकी समाप्ति होगी.

Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर और भी खतरनाक


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com