Delhi Pollution : दिल्‍ली वायु प्रदूषण के हालात गंभीर, गाजियाबाद-नोएडा भी देश के सबसे प्रदूषित शहरों में

Most Polluted cities: देश के सबसे प्रदूषित 10 शहरों में पांच शहर हरियाणा और तीन उत्तर प्रदेश के हैं. साथ ही इनमें राजस्‍थान के एक शहर के साथ ही देश की राजधानी दिल्‍ली भी शामिल है. सबसे प्रदूषित शहरों में बागपत पहले स्‍थान पर है.

Delhi Pollution : दिल्‍ली वायु प्रदूषण के हालात गंभीर, गाजियाबाद-नोएडा भी देश के सबसे प्रदूषित शहरों में

Delhi Air Pollution 2021 : प्रदूषित शहरों में गाजियाबाद-नोएडा जैसे NCR के इलाके भी शामिल. (फाइल)

नई दिल्ली :

देश के कई शहरों में वायु प्रदूषण (Air Pollution) के चलते स्थितियां बिगड़ती जा रही है. एक बार फिर दिल्‍ली (Delhi) के अलावा हरियाणा (Haryana) और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कई शहरों में भी प्रदूषण लोगों के खतरनाक स्‍तर तक पहुंच चुका है. देश के सबसे प्रदूषित शहरों (Most Polluted cities in India) में उत्तर प्रदेश का बागपत (Bagpat) पहले स्‍थान पर है और देश के सबसे प्रदूषित चार शहरों में से उत्तर प्रदेश के तीन शहर शामिल हैं. आलम ये है कि बागपत का वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) 400 के पार पहुंच चुका है.

दिल्‍ली की हवा भी 'बहुत खराब' हो चुकी है. वहीं इस सूची में गाजियाबाद-नोएडा (Ghaziabad-Noida) जैसे एनसीआर (Delhi NCR) के इलाके भी शामिल हैं. देश के सबसे प्रदूषित 10 शहरों में पांच शहर हरियाणा और तीन उत्तर प्रदेश के हैं. साथ ही इनमें राजस्‍थान के एक शहर के साथ ही देश की राजधानी दिल्‍ली भी शामिल है.

बागपत में वायु की गुणवत्ता बेहद खराब है और यहां का एक्‍यूआई स्‍तर 406 तक पहुंच चुका है. प्रदूषण के लिहाज से इसे सबसे गंभीर स्थिति माना जाता है. हालांकि अन्‍य शहरों की हालत भी बेहतर नहीं है. सबसे प्रदूषित 10 शहरों में से अन्‍य 9 शहरों की हालत भी अच्‍छी नहीं है. सभी शहरों का स्‍तर 300 से 400 के बीच है. इसे बहुत खराब माना जाता है. 

एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स के अनुसार, देश के सबसे प्रदूषित शहरों में दूसरे स्‍थान पर गाजियाबाद का एक्‍यूआई 393 है. वहीं तीसरे स्‍थान पर पानीपत (393), चौथे स्‍थान पर नोएडा (364), पांचवे स्‍थान पर गुरुग्राम (351) और छठे स्‍थान पर दिल्‍ली (351) है. इसके बाद क्रमश: भिवाड़ी (347), फरीदाबाद (338), मानेसर (334) और बल्‍लभगढ़ (320) हैं. 

वायु गुणवत्ता सूचकांक में प्रदूषण का स्‍तर 0-50 सबसे बेहतर माना जाता है. वहीं 51-100 को संतोषजनक, 101-200 तक मध्‍यम, 201-300 तक खराब, 301-400 तक बहुत खराब और 400-500 तक गंभीर माना जाता है. 

- - ये भी पढ़ें - -
* प्रदूषण को लेकर सीएम केजरीवाल ने दिल्ली वालों से की तीन गुजारिश, आप भी जानें
* दिल्ली-एनसीआर में सर्दियों की आहट के पहले प्रदूषण दिखाने लगा असर, कई शहरों में हालत खराब
* Air Pollution फेफड़ों के साथ कई अंगों को पहुंचाता है नुकसान, जानें बचाव के लिए 11 सबसे आसान तरीके

 


केजरीवाल ने प्रदूषण को लेकर दिल्‍ली वालों से की तीन गुजारिश, जानिए क्‍या बोले

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com