1188 करोड़ रुपये में सेना के लिए 4,960 एंटी-टैंक मिसाइल, भारत डायनामिक्स से रक्षा मंत्रालय की डील

बीडीएल के सीएमडी कप्तान सिद्धार्थ मिश्रा (सेवानिवृत्त) ने कहा कि यह ठेका मिलने से कंपनी के मौजूदा ऑर्डर बुक को मजबूती मिली है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि मौजूदा ठेके के साथ कंपनी के वर्तमान ऑर्डर बुक की स्थिति 9,000 करोड़ रुपये से अधिक है.

1188 करोड़ रुपये में सेना के लिए 4,960 एंटी-टैंक मिसाइल, भारत डायनामिक्स से रक्षा मंत्रालय की डील

रक्षा मंत्रालय ने 1188 करोड़ रुपये की लागत से एंटी टैंक मिसाइल खरीद का समझौता किया है.

हैदराबाद:

रक्षा क्षेत्र की सरकारी कंपनी भारत डायनामिक्स लिमिटेड (बीडीएल) ने शुक्रवार को रक्षा मंत्रालय के साथ मिलन 2टी एंटी-टैंक मिसाइल बनाने और आपूर्ति के लिए 1,188 करोड़ रुपये (जीएसटी सहित) के समझौते पर दस्तखत किए. इसके तह बीडीएल सेना को 4,960 एंटी टैंक मिसाइल देगा. एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक इस करार पर रक्षा मंत्रालय और अधिग्रहण शाखा की तरफ से संयुक्त सचिव (एएमएंडएलएस) दीप्ति मोहिल चावला और बीडीएल के कार्यकारी निदेशक (विपणन) टी एन कौल ने हस्ताक्षर किए.


बीडीएल के सीएमडी कप्तान सिद्धार्थ मिश्रा (सेवानिवृत्त) ने कहा कि यह ठेका मिलने से कंपनी के मौजूदा ऑर्डर बुक को मजबूती मिली है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि मौजूदा ठेके के साथ कंपनी के वर्तमान ऑर्डर बुक की स्थिति 9,000 करोड़ रुपये से अधिक है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मंत्रालय ने कहा कि मिसाइलों की रेंज 1,850 मीटर है, जिन्हें जमीन से और साथ ही वाहन-आधारित लांचर से दागा जा सकता है. मंत्रालय के मुताबिक डील तीन साल में पूरा करने की योजना है. पिछले कुछ महीनों में, मंत्रालय ने अपनी समग्र युद्ध क्षमताओं को बढ़ाने के लिए तीन बलों के लिए खरीद परियोजनाओं की एक श्रृंखला को अंतिम रूप दिया है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)