महाराष्‍ट्र: कई जिलों में 'खतरनाक ढंग' से बढ़े Covid-19 के केस, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने केंद्र से की वैक्‍सीन की मांग

महाराष्‍ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, ‘ केस ऐसे ही बढ़ते रहे तो लॉकडाउन के सिवा हमारे पास कोई  विल्प नहीं बचेगा, अगर लॉकडाउन सही मायने में टालना है तो लोग कोविड नियमों पालन करें.

महाराष्‍ट्र: कई जिलों में 'खतरनाक ढंग' से बढ़े Covid-19 के केस, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने केंद्र से की वैक्‍सीन की मांग

महाराष्‍ट्र में कई जिलों में कोरोना के केसों में जबर्दस्‍त उछाल आया है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टोपे ने की गाइडलाइन के पालन की अपील
  • कहा, अगर लॉकडाउन टालना है तो नियमों का पालन करें
  • नांदेड़ में तो केस क़रीब 1000% बढ़े हैं
मुंंबई:

Maharashtra Corona case Update: महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के नए मामलों की बढ़ती संख्‍या (New Corona case in Maharashtra) उद्धव ठाकरे सरकार के लिए परेशानी का कारण बन गई है. राज्‍य के 25 ज़िलों में 100%, 17 ज़िलों में 200% और तीन ज़िलों में 500% कोविड मामले सिर्फ़ 17 दिनों में बढ़े हैं. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र से वैक्सीन की मांग की है और लोगों से कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करने की अपील की है. उन्‍होंने महाराष्ट्र में लॉकडाउन (Lockdown) की चेतावनी भी दी है. महाराष्‍ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, ‘ केस ऐसे ही बढ़ते रहे तो लॉकडाउन के सिवा हमारे पास कोई  विल्प नहीं बचेगा, अगर लॉकडाउन सही मायने में टालना है तो लोग कोविड नियमों पालन करें.

केंद्र ने राज्यों को लिखा, कोविशील्ड की दूसरी डोज़ 4 से 8 हफ्ते के बीच दी जाए

उन्‍होंने कहा, ‘'मुख्यमंत्री जी चिंतित हैं, वे लोगों से कई बार अपील कर चुके हैं कि जनता कोविड अप्रोप्रीयट बिहेवियर दिखाए. अगर नहीं दिखाया तो लॉकडाउन के अलावा कोई पर्याय नहीं रहेगा, अगर लॉकडाउन नहीं चाहिए तो कोविड-19 को लेकर जारी गाइडलाइन का पालन करिए.'' गौरतलब है कि मुंबई,नाशिक, अहमदनगर,हिंगोली, लातूर, बीड, नागपुर, पुणे, सोलापुर, जैसे 25 ज़िलों में बीते 17 दिनों में कोरोना के मामले 100% से ज़्यादा बढ़े हैं जबकि  ठाणे, नवी मुंबई,धुले, कोल्हापुर, सांगली, औरंगाबाद, जालना, परभनी, ओस्मानाबाद, नांदेड़, बुलढाना, वाशिम, भंडारा और गोंदिया जैसे ज़िलों में कोविड केसों में 200% से ज़्यादा का इजाफा हुआ है. सबसे ज़्यादा नांदेड़ में क़रीब 1000% तो बुलढाना और परभनी के कोविड मामलों में करीब 500% उछाल दिखा है. नांदेड़ के बाद अब परभनी में भी बुधवार से 31 मार्च तक कर्फ़्यू की घोषणा हुई है. यहां शाम 7 से रात 12 तक नाइट कर्फ़्यू लग रहा है.


पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह की केंद्र से मांग, युवाओं को भी लगाएं वैक्सीन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्य सर्वेक्षण अधिकारी डॉ.प्रदीप आवटे कहते हैं, ‘'तीन हफ़्ते से हम महाराष्ट्र में मामले बढ़ते देख रहे हैं, शुरुआत विदर्भ रीजन से हुई, अमरावती, अकोला, यवतमाल, नागपुर और बुलढाना जैसे ज़िले इसमें आते हैं. पिछले हफ़्ते का डेटा देखें तो हमने टेस्टिंग बढ़ाई है. डेढ़ लाख टेस्ट रोज़ाना कर रहे हैं. अब हम ये देख रहे हैं अमरावती,अकोला जहां से केस बढ़ने की शुरुआत हुई थी, वहां केस अब माइनस में जा रहे हैं. माइनस 80%, 20% तक जा रहे हैं यानी ये प्रकोप कम होने के आसार भी हैं.कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच, राज्य में टीका लगाने की रफ़्तार भी बढ़ी है, अब तक 45 लाख लोगों को टीका लग चुका है. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने केंद्र से ये मांग दुहराई है कि वह हर हफ़्ते राज्य को 20 लाख वैक्सीन मुहैया कराए.