Covid-19: झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के 3992 नए मामले, 50 और मरीजों की मौत

पिछले 24 घंटों में राज्य में कुल 43691 नमूनों की जांच की गयी जिनमें से 3992 संक्रमित पाये गये. रांची में जहां 1073 नये लोग कोविड-19 से संक्रमित पाये गये, वहीं पूर्वी सिंहभूम में 676, कोडरमा 287 तथा धनबाद में 174 लोग इस वायरस से संक्रमित पाये गये.

Covid-19: झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के 3992 नए मामले, 50 और मरीजों की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर.

रांची:

झारखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण से 50 और लोगों की मौत हो गयी, जिसे मिलाकर राज्य में इस संक्रमण से मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 1456 तक पहुंच गयी. वहीं, इसी अवधि में संक्रमण के 3992 नये मामले सामने आये जिन्हें मिलाकर राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 162945 हो गयी. स्वास्थ्य विभाग की ओर से सोमवार को जारी रिपोर्ट में यह जानकाारी दी गई. रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य के 162945 संक्रमितों में से 133479 अब तक ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. इसके अलावा 28010 अन्य संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है.

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बांग्लादेश से रेमडेसिविर की आयात के लिए केंद्र से मांगी अनुमति

इसके मुताबिक, पिछले 24 घंटों में राज्य में कुल 43691 नमूनों की जांच की गयी जिनमें से 3992 संक्रमित पाये गये.
रांची में जहां 1073 नये लोग कोविड-19 से संक्रमित पाये गये, वहीं पूर्वी सिंहभूम में 676, कोडरमा 287 तथा धनबाद में 174 लोग इस वायरस से संक्रमित पाये गये. इसी प्रकार अकेले राजधानी रांची में कोरोना संक्रमण से पिछले 24 घंटों में जहां 11 लोगों की मौत हो गयी वहीं पूर्वी सिंहभूम में 17, गोड्डा में चार तथा दुमका, गढ़वा, गुमला, खूंटी, पलामू एवं रामगढ़ में दो-दो लोगों की मौत हो गयी. इसके अलावा, चतरा, धनबाद, कोडरमा, लातेहार, साहिबगंज एवं पश्चिमी सिंहभूम में एक-एक मरीज की मौत हो गयी.

हाल ही में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने ने कोरोना से बेकाबू होते हालात पर  NDTV Solutions Summit में कहा था कि झारखंड में भी हालात ऐसे ही है. लोग डरे हुए हैं. नोर्मल लक्षण वाले भी अस्पताल में ट्रीटमेंट चाहते हैं. लोग अस्पताल से निकलना नहीं चाहते. इससे अस्पतालों में सिचुएशन खराब होती जा रही है. लोगों को जबरदस्ती बाहर भी निकाला नहीं जा सकता है.  रेमडेसिविर दवा का संकट हो रहा है. मेडिकल ऑक्सीजन की भी कमी हो रही है. कमर्शियल सिलेंडरों के लिए कोशिश जारी है. केंद्र को रेमडेसिविर की कमी के बारे में बता दिया है. 

JAC Board Exams 2021: कोरोना के चलते झारखंड बोर्ड 10वीं-12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं स्थगित

हेमंत सोरेन ने ये भी कहा कि मार्केट में लोगों का हुजूम, त्योहारों में इकट्ठा होना और राजनीति कार्यक्रम देखकर बहुत अजीब लग रहा है. बहुत से लोग सावधानियां नहीं बरत रहे. मास्क नहीं पहन रहे. युवाओं से भी कहना चाहूंगा कि ये ऐसा संक्रमण है, जिससे बचाव हमारे हाथों में है. सभी लोगों को नियमों का पालन करना चाहिए. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूर करें. पूरे शहर में जॉम्बी घूम रहा है, ये सोचकर चलें. बिना जरूरत के घर से बाहर न निकलें. खुद भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी रखें.  


देश के प्रमुख शहरों में गहराता ऑक्सीजन संकट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)