मंत्रालय ने दी राज्यों को सलाह, कोरोना संक्रमण रोकने के लिए साइकिल जैसे वाहनों के इस्तेमाल को दें बढ़ावा

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के दौरान लोगों द्वारा परिवहन के निजी वाहनों के इस्तेमाल को प्राथमिकता दिए जाने के मद्देनजर केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने राज्यों को सलाह दी है कि वे संक्रमण रोकने के लिए साइकिल जैसे गैर-मोटर चालित वाहनों को बढ़ावा दें.

मंत्रालय ने दी राज्यों को सलाह, कोरोना संक्रमण रोकने के लिए साइकिल जैसे वाहनों के इस्तेमाल को दें बढ़ावा

Coronavirus: साइकिल जैसे गैर-मोटर चालित वाहनों को बढ़ावा देने की सलाह दी गई है

नई दिल्ली :

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के दौरान लोगों द्वारा परिवहन के निजी वाहनों के इस्तेमाल को प्राथमिकता दिए जाने के मद्देनजर केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने राज्यों को सलाह दी है कि वे संक्रमण रोकने के लिए साइकिल जैसे गैर-मोटर चालित वाहनों को बढ़ावा दें.  मंत्रालय ने राज्यों से सार्वजनिक परिवहन प्रणाली में नकदी रहित तकनीक लागू करने को भी कहा है.  मंत्रालय ने कोरोनो वायरस संकट के बीच गैर-मोटर चालित परिवहन को बढ़ावा देने वाले दुनिया के शहरों का उदाहरण देते हुए कहा कि अमेरिका के न्यूयॉर्क ने साइकिल चालकों के लिए 40 मील लंबे नए मार्ग मुहैया कराए हैं और ओकलैंड ने अपनी 10 प्रतिशत गलियों को मोटर वाहनों के लिए बंद कर दिया है. कोलंबिया के बोगोटा ने रातभर में 76 किलोमीटर अतिरिक्त साइकिल मार्ग की व्यवस्था की.


मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने शुक्रवार को राज्यों और मेट्रो रेल कंपनियों को परामर्श जारी करते हुए कहा कि गैर-मोटर चालित वाहनों को देश में बढ़ावा दिया जाना चाहिए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


परामर्श में कहा गया है, 'शहरों में लोगों को अधिकतर पांच किलोमीटर तक की यात्रा करनी होती है. ऐसे में, कोविड-19 संकट के बीच गैर-मोटर चालित परिवहन को लागू करने का सही मौका है क्योंकि इसके लिए कम लागत एवं कम मानव संसाधन की आवश्यकता है. इसे चलाना आसान है और यह पर्यावरण के अनुकूल है.'
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)