'जहाँ सत्य है, वहाँ आज भी बापू ज़िंदा हैं!', राहुल गांधी का हिन्दुत्ववादियों पर निशाना

उन्होंने कहा है कि एक हिन्दुत्ववादी ने ही गांधी जी को गोली मारी थी. उन्होंने लिखा है कि सभी हिन्दुत्ववादियों को लगता है कि अब गांधी जिंदा नहीं हैं लेकिन वो आज भी जिंदा हैं.

नई दिल्ली:

कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए हिन्दुत्व का एजेंडा चलाने वालों को निशाने पर लिया है. उन्होंने कहा है कि एक हिन्दुत्ववादी ने ही गांधी जी को गोली मारी थी. उन्होंने लिखा है कि सभी हिन्दुत्ववादियों को लगता है कि अब गांधी जिंदा नहीं हैं लेकिन वो आज भी जिंदा हैं.

राहुल ने सोशल मीडिया पर ट्वीट किया है, "एक हिंदुत्ववादी ने गाँधी जी को गोली मारी थी. सब हिंदुत्ववादियों को लगता है कि गाँधी जी नहीं रहे..जहाँ सत्य है, वहाँ आज भी बापू ज़िंदा हैं!#GandhiForever

बता दें कि 30 जनवरी, 1948 को शाम 5 बजकर 17 मिनट पर नाथूराम गोडसे ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वो नई दिल्ली के बिड़ला हाउस में प्रार्थना के लिए जा रहे थे. उसी दौरान नाथूराम गोडसे ने वहां पहुंचकर पहले बापू के पैर छुए फिर उनके साथ खड़ी महिला को हटाया और अपनी सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल से एक बाद के एक तीन गोली मारकर उनकी हत्‍या कर दी थी.

प्रदर्शनकारी युवाओं के समर्थन में राहुल गांधी ने कहा: "कौन कहता है ये अच्छे दिन हैं"

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राहुल गांधी हिन्दू और हिन्दुत्व में अंतर बताते रहे हैं. राहुल गांधी ने पिछले साल दिसंबर में जयपुर में महंगाई के खिलाफ एक रैली में कहा था, ''दो शब्दों का एक मतलब नहीं हो सकता. हर शब्द का अलग मतलब होता है. एक हिन्दू , दूसरा हिन्दुत्ववादी. मैं हिन्दू हूं लेकिन हिन्दुवादी नहीं हूं. महात्मा गाँधी- हिन्दू थे, लेकिन गोडसे - हिन्दुवादी.''