CII के नए अध्यक्ष ने गिरती अर्थव्यवस्था पर कहा, लॉकडाउन से निकलना चक्रव्यूह से निकलने जैसा

Lockdown: सीआईआई के नए अध्यक्ष उदय कोटक ने गिरती अर्थव्यवस्था की संभालने के लिए एक 10 सूत्री रोडमैप पेश किया

नई दिल्ली:

Coronavirus Lockdown: सीआईआई के नए अध्यक्ष उदय कोटक ने कहा है कि लॉकडाउन से निकलना एक चक्रव्यूह से निकलने के समान है और कोरोना संकट की वजह से अर्थव्यवस्था की रफ़्तार मौजूदा साल में निगेटिव में रहने का अंदेशा है. अपनी पहली मीडिया ब्रीफिंग में सीआईआई के नए अध्यक्ष ने गिरती अर्थव्यवस्था की संभालने के लिए एक 10 सूत्री रोडमैप पेश किया.  

उद्योग संघ सीआईआई के नए अध्यक्ष उदय कोटक ने गुरुवार को कोरोना संकट और लॉकडाउन की वजह से उद्योग जगत के सामने बढ़ती चुनौतियों और संकट पर एक अहम बयान दिया. उन्होंने कहा कि ''लॉकडाउन से बाहर निकलना चक्रव्यूह से निकलने की तरह है. अब कोरोना से पहले की दुनिया नहीं है. हम कोरोना काल से गुजर रहे हैं और कोरोना से बाद का समय दुनिया आगे देखेगी.''  उन्होंने माना कि अर्थव्यवस्था की रफ़्तार इस साल गिरकर निगेटिव रहने का अंदेशा है और बेरोज़गारी का संकट बड़ा हो रहा है.

गुरुवार को मीडिया से मुखातिब हुए उद्योग संघ सीआईआई के नए अध्यक्ष उदय कोटक को अहसास है कि भारतीय  अर्थव्यवस्था एक चक्रव्यूह में है. नए सीआईआई अध्यक्ष ने गिरती अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए एक 10 सूत्री रोडमैप पेश किया. उन्होंने कहा कि भविष्य में आर्थिक विकास दर फिर से वापस बहाल करने के लिए फिस्कल डेफिसिट और फिस्कल स्टेबिलिटी में बैलेंस बनाए रखना होगा.  उनका सुझाव है कि सरकार वित्तीय घाटा रोके,  उपभोग, निवेश, निर्यात और सरकारी खर्च बढ़ाने पर ध्यान दे.


उदय कोटक ने रियल इस्टेट डेवलपर्स से कहा कि नए घरों की कीमतें घटाकर उन्हें सस्ती दरों पर बेचना शुरू करें. उन्होंने वाणिज्य मंत्री पियूष गोयल की रियल इस्टेट डेवलपर्स को सलाह का समर्थन किया कि वे प्रॉपर्टी की कीमतें घटाकर बेचना शुरू करें और इन्वेंटरी क्लियर करें क्योंकि मार्केट की स्थिति जल्दी ठीक होने वाली नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


साफ़ है आर्थिक मोर्चे पर चुनौतियां बड़ी हैं और आर्थिक संकट को संभालना आसान नहीं होगा.