26 जनवरी से पहले देश की राजधानी को 3 किलो के टाइम बम से दहलाने की साज़िश हुई नाकाम

गाजीपुर फूलमंडी में आईईडी बम रखने की यह घटना 26 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस समारोह से पहले हुई है.  घटना को लेकर शहर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. सूत्रों के मुताबिक बम बनाने में करीब 3 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल हुआ.

26 जनवरी से पहले देश की राजधानी को 3 किलो के टाइम बम से दहलाने की साज़िश हुई नाकाम

नई दिल्ली :

दिल्ली के गाजीपुर फूल बाजार में शुक्रवार सुबह एक लावारिस बैग में आईईडी बम मिला. इस बम में एक टाइमर लगा हुआ था. बड़ी तबाही के इंतज़ाम के रखे गए इस बम को समय रहते निष्क्रिय कर दिया गया. यह घटना 26 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस समारोह से पहले हुई है.  घटना को लेकर शहर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है.सूत्रों के मुताबिक बम बनाने में करीब 3 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल हुआ. शुरुआती तफ्तीश में नाइट्रेट(पोटेशियम या अमोनियम नाइट्रेट) और आरडीएक्स मिक्स विस्फोटक होने का संदेह है. 

एनएसजी की टीम ने मौके से तमाम सैंपल इकट्ठे किए हैं, जिसकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. जांच में यह भी पता चला है कि बैग में इतनी बड़ी मात्रा में विस्फोटक रखने के पीछे का मकसद ज्यादा से ज्यादा तबाही मचाना था.

विस्फोटक को ब्लास्ट करने के लिए घड़ी या मोबाइल फोन का इस्तेमाल किए जाने का संदेह है. बम में टाइमर लगा हुआ पाया गया है. सब्जी मंडी में लगे तमाम सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है.

सुबह 10 :20 बजे दिल्ली पुलिस को एक सिविल डिफेंस वॉलिंटियर ने पीसीआर कॉल कर बताया कि मंडी के गेट नम्बर 1 पर एक स्कूटी के ऊपर संदिग्ध सामना रखा है. उसे एक लोकल वेंडर ने बताया था कि संदिग्ध सामान रखा है. लोकल पुलिस और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल तुरंत मौके पर पहुँची.

विस्फोटक की जांच के लिए एनएसजी को भी बुलाया गया.जांच में पता चला कि बैग के अंदर आईईडी से लैस एक बम है. इसके बाद पास ही 8 फ़ीट गड्ढा खोदकर बम को निष्क्रिय किया गया.

डिफ्यूज करते वक्त एक जोरदार धमाका हुआ. पुलिस के मुताबिक सुबह के वक्त जब बम रखा गया था उस समय मंडी में भीड़ काफी ज्यादा होती है. अगर उस वक्त ये बम ब्लास्ट होता बड़े पैमाने पर नुकसान होता. लेकिन समय रहते इसे देख लिया गया.


अब एनएसजी के जांच करके बताएगी की बम में किस तरफ के विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया. शुरुआती जांच में ये अमोनियम नाइट्रेट लग रहा है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल इस मामले में केस दर्ज करेगी. पुलिस के मुताबिक ये एक आतंकी घटना लग रही है. 26 जनवरी के ठीक पहले राजधानी में ब्लास्ट करने की साज़िश थी जो नाकाम हुई है
ग़ाज़ीपुर फूलमंडी अपडेट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com