10 मई से सेवा देना शुरू करेगा BHU का अस्थायी अस्पताल, पॉजिटिविटी कम हुई है : योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा कि BHU का अस्थायी अस्पताल 10 मई से सेवा देना शुरू करेगा. सीएम योगी ने कहा कि 750 बेड का नया अस्पताल स्वीकृत

10 मई से सेवा देना शुरू करेगा BHU का अस्थायी अस्पताल, पॉजिटिविटी कम हुई है : योगी आदित्यनाथ

यूपी में 45 वर्ष से अधिक 1करोड़ 37 लाख लोगों को वैक्सीन लगाया है. 

वाराणसी:

उत्तर प्रदेश में कोरोना प्रकोप के बीच बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ( BHU) के सेंट्रल हॉल में मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया को संबोधित किया. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि BHU का अस्थायी अस्पताल 10 मई से सेवा देना शुरू करेगा. सीएम योगी ने कहा कि 750 बेड का नया अस्पताल स्वीकृत किया है उसमें कार्य तेजी से हुआ, इसमें 250 वेंटिलेटर के बेड है. पूरे मजबूती के साथ कोरोना के दूसरे वेब का मुकाबला कर रहे है. प्रदेश में 24 अप्रैल को सबसे ज्यादा केस आए और आज प्रदेश में सिर्फ 23 हजार केस आए हैं.

केंद्रीय मंत्री का CM योगी को खत : 'मरीज भर्ती नहीं हो रहे, अधिकारी फोन नहीं उठाते, ज्यादा दाम पर बिक रहे उपकरण'

सीएम योगी ने कहा कि रिकवरी बड़ी है पॉजिटिविटी कम हुई है. मुख्यमंत्री योगी ने वाराणसी जनपद और कमिश्नरी की समीक्षा की है. उन्होंने कहा कि एक सप्ताह में वाराणसी मंडल में 9285 एक्टिव केस कम हुए है.  सर्वाधिक 4500 वाराणसी के है. तेजी से संक्रमण फैलने से डर का माहौल था. प्रधानमंत्री का आभारी हूं कि ऑक्सीजन की आपूर्ति को बढ़ाया है. यूपी में सामान्य दिनों में 300 से 400 मिक्ट्रिक टन की डिमांड थी. यूपी में 1000 मिक्ट्रिक टन की आपूर्ति हो रही है. उन्होंने कहा कि महामारी का मुकाबला मजबूती के साथ मिलकर कर रहे है.  कोरोना वॉरियर, हेल्थ वर्कर बेहतर कार्य कर रहे है. यूपी में 45 वर्ष से अधिक 1करोड़ 37 लाख लोगों को वैक्सीन लगाया है. 

राज्य में कोरोना वायरस के केस में बढ़ोतरी होने के कारण उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 20 मई तक बंद करने का ऐलान किया है. इसी के साथ ऑनलाइन क्लासेज की भी अनुमति नहीं दी है. आपको बता दें, उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण को काबू करने के लिए 30 अप्रैल से लागू कर्फ्यू की अवधि रविवार को 17 मई तक बढ़ा दी गई है.

BJP सांसद की CM योगी को चिट्ठी, कहा- लोगों को समय से नहीं मिल रहा इलाज, अस्पताल के बाहर तोड़ रहे दम

कोरोना वायरस के कारण कई राज्यों में लॉकडाउन घोषित कर दिया है, जिस कारण स्कूल, कॉलेज, कोचिंग समेत राज्य के सभी संस्थान बंद है. 2020 और 2021 में देशभर के छात्रों की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है. ऐसे में कई राज्यों ने अपनी बोर्ड परीक्षा भी स्थगित कर दी है.


प्राइम टाइम :यूपी में पंचायत चुनाव के बाद कोरोना के कहर के साथ खूनखराबे का दौर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com