पुलवामा आतंकी हमले पर बोले बाबा रामदेव- 'अब चुप रहने से काम नहीं चलेगा, करना होगा यह काम...'

योग गुरु बाबा रामदेव (Baba Ramdev) ने कहा, 'हमें पाकिस्तान और आतंकवादियों को जवाब देना है तथा सबसे पहले हमें पाकिस्तान के तीन टुकड़े कर देना चाहिए.'

पुलवामा आतंकी हमले पर बोले बाबा रामदेव- 'अब चुप रहने से काम नहीं चलेगा, करना होगा यह काम...'

योग गुरु बाबा रामदेव. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पुलवामा आतंकी हमले पर बोले योग गुरु बाबा रामदेव
  • बाबा रामदेव ने कहा, अब चुप रहने से काम नहीं चलेगा
  • 'पाक को सबक सिखाने के लिए उसके खिलाफ युद्ध जरूरी'
रायपुर:

योग गुरु रामदेव (Baba Ramdev) ने पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) को लेकर कहा कि पूरी दुनिया अब हमारी तरफ देख रही है. दुश्मन देश हमारा सबकुछ बर्बाद करने पर अमादा हो और हम चुप होकर बैठे रहें इससे काम नहीं बनेगा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए उसके खिलाफ युद्ध छेड़ना चाहिए. इसके अलावा बलूचिस्तान को आजादी दिलाने में भी मदद करनी चाहिए. योग गुरु ने रायपुर में एक कार्यक्रम के दौरान जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआपीएफ के दल पर आतंकवादी हमले पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की. बाबा रामदेव ने कहा, 'हमें पाकिस्तान और आतंकवादियों को जवाब देना है तथा सबसे पहले हमें पाकिस्तान के तीन टुकड़े कर देना चाहिए.'

यह भी पढ़ें: Pulwama Attack: इमरान के बयान पर कुमार विश्वास का हमला, 'जिंदगी में खुद कुछ करते हो या फिर जैश-लश्कर...

उन्होंने कहा, 'बलुचिस्तान में जो आजादी के लिए संघर्ष कर रहे हैं, उन्हें आर्थिक, राजनीतिक और हथियारों के तौर पर सभी तरह की मदद करनी चाहिए तथा बलुचिस्तान को आजाद कराना चाहिए.' रामदेव ने कहा, 'पाकिस्तान ने जो भारत में कब्जा जमाया हुआ है उस पीओके का भारत में विलय कराया जाना चाहिए. वहां जितने भी आतंकी शिविर चल रहे हैं उन्हें ध्वस्त किया जाना चाहिए.' उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान के भीतर जो विद्रोही हैं उन्हें भारत को मदद करके उनसे बगावत करानी चाहिए और पाकिस्तान को पूरा ध्वस्त कर देना चाहिए. अगर ऐसा नहीं किया गया तो पाकिस्तान अपनी नापाक हरकत बंद नहीं करेगा.'

यह भी पढ़ें: भारत की बड़ी कामयाबी, जैश सरगना मसूद अजहर पर प्रतिबंध के लिए यह कदम उठाएगा फ्रांस: सूत्र

रामदेव ने कहा, 'अब तक हमने 50 हजार से अधिक सैनिकों और नागरिकों को खो दिया है तथा यह भारत के लिए एक बड़ा दंश और दर्द है. एक शक्तिशाली देश ने पाकिस्तान की नापाक गतिविधियों के कारण अपने 50 हजार लागों को खोया है. अब हमें पाकिस्तान को सबक सिखाना है. दिन पर दिन पीड़ित होने की बजाय हम युद्ध लड़ें और पाकिस्तान को ऐसा सबक सिखाएं कि वह अगले 50 वर्षों तक खड़े होने की हिम्मत न कर सके.' योग गुरु ने कहा, 'अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण एक राजनीतिक मुद्दा नहीं है, बल्कि यह देश की अस्मिता से जुड़ा मामला है.' 

यह भी पढ़ें: पुलवामा हमला: महबूबा मुफ्ती ने की पाक पीएम इमरान खान की वकालत, कही यह बात...

उन्होंने कहा, 'राम को वह न तो वोटबैंक मानते हैं और न ही राजनीतिक मुद्दा मानते हैं. उन्होंने कहा कि राम राष्ट्र की अस्मिता हैं. राम राष्ट्र की मर्यादा है, वह हमारी आचरण की श्रेष्ठता है. राम हिंदू और मुस्लिम दोनों के पूर्वज हैं, इसलिए इसमें मजहब आगे नहीं आता है. राम मंदिर तो बनना ही चाहिए और राम मंदिर बनने के साथ साथ राम और सीता जैसा चरित्र भी बने. राम मंदिर और राष्ट्र का चरित्र निर्माण होगा तब सच्चे अर्थों में देश में राम राज्य आएगा.' उन्होंने कहा, 'कुंभ में तय हुआ कि राम मंदिर पर सारा राष्ट्र एक है. हमें बड़े मुददों पर एक होना चाहिए और पूरा राष्ट्र एक दिखना चाहिए. राम के नाम पर बंटवारा नहीं होना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Pulwama Attack: इमरान खान के आरोपों को भारत ने किया सिरे से खारिज, 'गुमराह करना बंद करें, एक्शन लीजिए'

राजनेताओं को तनावमुक्त रहने के लिए योग करने की सीख देते हुए रामदेव ने कहा, 'इस समय सारे राजनीतिक दल तनाव में हैं और राजयोग उन्हीं का होगा जो योग करेंगे. पहले नेहरू जी योग करते थे तब उनका राजयोग बहुत अच्छा था. इंदिरा जी भी योग करती थी उनका भी राजयोग बहुत अच्छा था. मोदी जी ने योग किया तो एक चाय वाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन गया. योगी आदित्यनाथ ने योग किया तो देश के सबसे बड़े राज्य के मुख्यमंत्री बन गए. अब राहुल गांधी जी योग करने लगे हैं और संघर्ष बड़ा जबरदस्त हो रहा है.' जब योग गुरु से पूछा गया कि क्या वह संकेत दे रहे हैं कि योग अभ्यास करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं. तब रामदेव ने कहा कि उन्होंने ऐसा नहीं कहा है.


VIDEO:  क्या पाक में नहीं रहता मसूद अज़हर?​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट: भाषा)