राहुल गांधी ने दो शब्द ट्वीट कर चुनाव आयोग पर कसा तंज, जानें कैसे साधा निशाना?

राहुल गांधी का यह ट्वीट तब आया है जब चुनाव आयोग ने बीजेपी नेता और असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (BJP leader Himanta Biswa Sarma) को राहत दे दी है.

राहुल गांधी ने दो शब्द ट्वीट कर चुनाव आयोग पर कसा तंज, जानें कैसे साधा निशाना?

नई दिल्ली:

Assembly Elections 2021: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को ट्विटर पर दो शब्द लिखकर चुनाव आयोग पर तंज कसा है. राहुल गांधी ने यह ट्वीट ऐसे समय में किया है जब असम में बीजेपी उम्मीदवार के कार में पोलिंग टीम के सदस्यों द्वारा EVM ले जाने और वरिष्ठ बीजेपी नेता पर चुनाव प्रचार पर लगी रोक की अवधि को घटाने पर विवाद चल रहा हो. बता दें कि राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा Election “Commission” (चुनाव "आयोग").

राहुल गांधी ने ट्वीट कर सीधे हमला बोला है, जहां चुनाव आयोग ने राताबारी सीट के एक पोलिंग स्टेशन पर फिर से वोटिंग कराने की घोषणा की. दरअसल, यहां की पोलिंग टीम भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार की कार से ईवीएम लेकर स्ट्रॉन्ग रूम पर पहुंची थी, जिसके बाद करीमगंज में हिंसा भड़क गई थी. हालांकि टीम के सदस्यों को चुनाव आयोग ने बर्खास्त कर दिया है. 

असम में BJP कैंडिडेट की कार से EVM लाने पर पोलिंग टीम बर्खास्त, बूथ पर फिर से होगी वोटिंग

इसके अलावा राहुल गांधी का यह ट्वीट तब आया है जब चुनाव आयोग ने बीजेपी नेता और असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (BJP leader Himanta Biswa Sarma) को राहत दे दी है. बता दें कि आयोग ने विवादित बयान को लेकर हिमंता पर 48 घंटे (Election Campaign Ban)  का प्रतिबंध लगाया था, जिसे घटाकर अब 24 घंटे का कर दिया गया है. इसका तात्पर्य यह है कि सरमा शनिवार शाम से चुनाव प्रचार दोबारा शुरू कर सकेंगे. बता दें कि कांग्रेस ने चुनाव आयोग में हिमंता बिस्वा सरमा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी.  

भारतीय निर्वाचन आय़ोग (Election Commission) ने असम में बीजेपी के कद्दावर नेता और मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) को कांग्रेस की शिकायत पर नोटिस भेजकर जवाब मांगा था. कांग्रेस का आरोप है कि हिमंता ने हग्रामा मोहिलारी (Hagrama Mohilary) के खिलाफ धमकी भरे शब्दों का इस्तेमाल किया है. मोहिलारी बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (Bodoland People's Front) के प्रमुख हैं, जिन्होंने चुनाव के ठीक पहले बीजेपी का साथ छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया था. असम विधानसभा चुनाव के लिए एक अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान हुआ.

Assembly Elections 2021, Phase 2 Voting: पश्चिम बंगाल में 82.8 प्रतिशत, असम में 77.21 प्रतिशत मतदान

वहीं, जिस कार में पोलिंग टीम के सदस्य ईवीएम लेकर पहुंचे थे, वो कार पथरकंडी के बीजेपी उम्मीदवार कृष्णेंदु पॉल की थी. इस घटना को लेकर विपक्षी पार्टियों ने सत्तारूढ़ बीजेपी पर घपला करने का आरोप लगाया है. इसे लेकर कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग पर निशाना साधा है. सुरजेवाला ने इस मसले पर सिलसिलेवार ट्वीट किए हैं जिसमें उन्‍होंने ECI से 6 सवाल पूछे हैं. उन्‍होंने लिखा है, असम विधानसभा चुनाव में संभावित हार की आशंका से बीजेपी बौखला गई है, ऐसे में आखिरी उपाय ''ईवीएम'' ही होती है. उन्‍होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा- क्‍या चुनाव आयोग जवाब देगा.

1. बीजेपी उम्‍मीदवार कृष्‍णेंदु पॉल की कार से EVM क्‍यों बरामद हुई?

2. असम के दिफू में हातीपुरा पोलिंग स्‍टेशन के करीब एक लक्‍जरी कार की डिक्‍की में ईवीएम क्‍यों मिली ?

3. जामुनुख में अधिकारी, सुरक्षा अधिकारियों के बगैर ईवीएम क्‍यों लेकर जा रहे थे जबकि यह ECI के मेंडेट का सीधे तौर पर उल्‍लंघन है?

4. क्‍या कालाईगांव (Kalaigaon) के वोटरों ने बूथ से ईवीएम के गायब होने की शिकायत की थी? इस बारे में क्‍या जांच हुई और क्‍या कार्रवाई की गई?

5. क्‍या कुछ संदिग्‍ध अधिकारी डिब्रूगढ़ में स्‍ट्रांगरूम के अंदर पाए गए थे, जहां EVM रखी गई हैं? इस मामले में क्‍या कदम उठाए गए?

6. दूसरे चरण में क्‍या 139 पोलिंग स्‍टेशन में EVM के साथ खराबी का सामना करना पड़ा था, इसमें जागीरोड, नागांव, होजाई, नीलबागान, लुमडिंग और अन्‍य स्‍थान शामिल हैं? इस मामले में क्‍या कदम उठाया गया.

असम में एक बीजेपी प्रत्‍याशी की कार में ईवीएम मिलने के मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट किया है. उन्‍होंने लिखा, 'क्या स्क्रिप्ट है?चुनाव आयोग की गाड़ी खराब हुई,तभी वहां एक गाड़ी प्रकट हुई. गाड़ी भाजपा के प्रत्याशी की निकली. मासूम चुनाव आयोग उसमें बैठकर सवारी करता रहा।प्रिय EC, माजरा क्या है? आप देश को इस पर कुछ सफाई दे सकते हैं?' 

गौरतलब है कि असम विधानसभा चुनाव के पहले चरण के अंगर्तत 27 मार्च को दूसरे चरण के अंतर्गत गुरुवार, एक अप्रैल को वोट डाले गए् थे. तीसरे और अंतिम चरण के अंतर्गत छह अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. राज्‍य में विधानसभा की 126 सीटें हैं और मुख्‍य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है.

Video : रवीश कुमार का प्राइम टाइम : BJP की गाड़ी में चुनाव आयोग की EVM, असली कहानी क्या है?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com