उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी की तैयारी, प्रदेश में तीन कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए

आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर ने एक महत्वपूर्ण प्रेसवार्ता करते हुए निजी कारणों से अपने पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा कि ‘आप’ ने उन्हें आजतक जो सम्मान दिया है, वो उसके लिए पार्टी के सदैव आभारी रहेंगे.

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी की तैयारी, प्रदेश में तीन कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए

आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर पार्टी अपने संगठन को मजबूत करने में जुट गई है.

नई दिल्ली:

उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए आम आदमी पार्टी अपने संगठन को मजबूत करने में जुट गई है. आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर ने एक महत्वपूर्ण प्रेसवार्ता करते हुए निजी कारणों से अपने पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा कि ‘आप' ने उन्हें आजतक जो सम्मान दिया है, वो उसके लिए पार्टी के सदैव आभारी रहेंगे. उन्होंने ‘आप' संयोजक अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया का भी आभार जताया. वो अब अपनी ही विधानसभा में कार्य करेंगे और आगामी चुनाव में सीएम धामी के खिलाफ चुनावी ताल ठोकेंगे. आगे वो पार्टी कार्यकर्ता के रूप में पार्टी के लिए एक निष्ठावान कार्यकर्ता की तरह कार्य करते रहेंगे. इसके बाद ‘आप' के वरिष्ठ नेता कर्नल कोठियाल ने बडी घोषणा करते हुए गढवाल, कुमाऊं और तराई क्षेत्र से तीन कार्यकारी अध्यक्षों की नियुक्ति की घोषणा के साथ आगामी विधानसभा चुनावों के लिए कैंपेन कमेटी के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की भी घोषणा की है.

'पसंदीदा एजेंसी से लव लेटर मिला' : प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस पर AAP का तंज

कर्नल कोठियाल ने कहा कि पार्टी द्वारा गढवाल, कुमाऊं और तराई से तीन कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं. भूपेश उपाध्याय कार्यकारी अध्यक्ष कुमाऊं, पूर्व आईपीएस अनंत राम चैहान कार्यकारी अध्यक्ष गढ़वाल और प्रेम सिंह राठौर कार्यकारी अध्यक्ष तराई. इसके साथ ही विधानसभा चुनाव कैंपेन कमेटी  की भी घोषणा करते हुए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की नियुक्ति की है. प्रदेश के दो पार्टी उपाध्यक्षों को यह जिम्मेदारी दी गई है. दीपक बाली को विधानसभा चुनाव कैंपेन कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है, जबकि बसंत कुमार को कैंपेन कमेटी का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है. इस दौरान कर्नल कोठियाल ने कहा कि आप पार्टी की लोकप्रियता दिनों दिन बढती जा रही है और आने वाला चुनाव ‘आप' पार्टी मजबूती से लड़ेगी. सभी नए नियुक्त पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए कर्नल कोठियाल ने कहा कि ‘आप' पार्टी इसके अलावा बहुत जल्द ही सभी बची हुई विधानसभाओं में प्रत्याशियों का चयन करेगी, ताकि जनता और उम्मीदवार के बीच संवाद कायम हो सके.


अरविंद केजरीवाल फिर चुने गए AAP के राष्ट्रीय संयोजक, राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में फैसला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि ‘आप' पार्टी की नीतियां स्पष्ट हैं, यहां एक प्रत्याशी दो विधानसभाओं से चुनाव नहीं लड़ेगा, जिसे जो विधानसभा का उम्मीदवार बनाया गया हो, वो वहीं से प्रत्याशी होगा. उन्होंने कहा कि एस एस कलेर के अनुभव का पूरी पार्टी लाभ लेते हुए प्रदेश में पूरी ताकत से चुनावी मैदान में उतरेगी. उन्होंने कहा कि अगर गुड गर्वनेंस लागू करनी है तो प्रदेश में अच्छे मॉडल लाने होंगे, ताकि उनमें पारदर्शिता नजर आ सके. आप पार्टी किसी भी कैंपेन को शुरू करने से पहले जनता की राय लेती है, जबकि बीजेपी-कांग्रेस जनता को तवज्जो नहीं देते. उन्होंने कहा कि ‘आप' पार्टी के दरवाजे सभी के लिए खुले हैं, लेकिन ‘आप' पार्टी ऐसे लोगों को ही पार्टी में जगह देगी, जो लोग नवनिर्माण की सोच रखते हों और जो पार्टी के 3 सी के फॉर्मूले पर फिट बैठते हों. कर्नल कोठियाल ने उम्मीद जताई कि सभी नवनियुक्त पदाधिकारी अपने कर्तव्य का निर्वहन निष्ठा से करेंगे और आम आदमी पार्टी की नीतियों और मूल्यों में विश्वास रखते हुए पार्टी को और आगे ले जाने में सफल साबित होंगे.