पाक की जीत का जश्न मनाने पर 3 कश्मीरी छात्र समेत 7 भेजे गए जेल, मुफ्ती बोलीं- तुरंत रिहा हों

भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा, हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल की शिकायत पर ये लोग जेल भेजे गए हैं. इनमें आगरा के तीन कश्मीरी छात्र भी शामिल हैं. उनपर आज कोर्ट के बाहर हमला करने की कोशिश की गई.

पाक की जीत का जश्न मनाने पर 3 कश्मीरी छात्र समेत 7 भेजे गए जेल, मुफ्ती बोलीं- तुरंत रिहा हों

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे लोगों पर देशद्रोह का केस कायम करने को कहा है

लखनऊ:

भारत-पाकिस्तान मैच में पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने के आरोप में यूपी में आधा दर्जन से ज्यादा लोग जेल भेज दिए गए हैं. ये लोग भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा, हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल की शिकायत पर अलग-अलग जिलों में जेल भेजे गए हैं. इनमें आगरा के तीन कश्मीरी छात्र भी शामिल हैं. उनपर आज कोर्ट के बाहर हमला करने की कोशिश की गई. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे लोगों पर देशद्रोह का केस कायम करने को कहा है. वहीं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीरी छात्रों की रिहाई की मांग की है.

दरअसल, आगरा के राजा बलवंत सिंह कॉलेज इंजीनियरिंग कॉलेज के तीन छात्रों पर आरोप है कि उन्होंने क्रिकेट में पाकिस्तान की जीत पर सोशल मीडिया पर खुशी मनाई. भारतीय जनता युवा मोर्चा की शिकायत के बाद पुलिस ने तीनों पर केस दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया. सौरभ सिंह, सीओ लोहा मंड़ी आगरा ने बताया कि मामले में पुलिस को तहरीर प्राप्त हुई थी. जिसके आधार पर पुलिस ने मुकदमा पंजिकृत किया और उसकी जांच के बाद उसमें नामजद तीनों को गिरफ्तार किया गया.

"पाक की जीत का जश्न मनाना देशद्रोह": जम्मू-कश्मीर के तीन छात्र आगरा में गिरफ्तार

वहीं पुलिस ने जब तीनों कश्मीरी छात्रों को जेल भेजने से पहले कोर्ट में पेश किया तो उनके कुछ लोगों ने हमला करने की कोशिश की. घटना का पूरा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. कश्मीरी छात्रों को केस दर्ज कराने वाले भारतीय जनता युवा मोर्चा के लोगों का कहना है कि यह योगी का प्रदेश है. मोर्चा के ब्रज क्षेत्र मंत्री गौरव रजावत ने कहा कि अगर वो देश को तोड़ने की बात करेगा तो उसके लिए हमारे देश में हमारे आगरा में कहीं कोई स्थान नहीं है. क्योंकि ये प्रदेश योगी जी का प्रदेश है. यहां देश तोड़ने वालों को जगह कहीं नहीं दी जाएगी.

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने वालों पर देशद्रोह का केस दर्ज करने को कहा है. बकायदा इसके लिए उनके ऑफिस के ट्विटर हैंडल से ट्वीट भी किया गया है. जिसमें लिखा है, पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों पर देशद्रोह लगेगा.

उधर, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीरी छात्रों की रिहाई की मांग को लेकर ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा, बीजेपी की छद्म देशभक्ति भारत के विचार की अवहेलना करती है. इन छात्रों को तुरंत रिहा किया जाए.

बरेली में भी दो लोगों को जेल भेजा गया है. इनसे नाराज हिंदू जागरण मंच युवा मोर्चा के लोग एडीजी के दफ्तर पहुंचे. जिन्होंने बरेली जेल के एक कर्मचारी पर भी मैच में पाकिस्तान की हिमायत करने का आरोप लगाया. जागरण मंच युवा मोर्चा के अध्यक्ष अंशुमन पटेल ने कहा कि उन्होंने अपना एक स्टेटस व्हट्सएप पर लगाया था. जिसमें वो पाकिस्तान का समर्थन कर रहे थे. इसको लेकर हमने इज्जतनगर पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ केस दर्ज कराया है. 

शिकायत मिलने पर पुलिस तुरंत एक्शन में आई और दोनों को गिरफ्तार कर लिया. एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि दो अलग-अलग व्यक्तियों द्वारा मोबाइल से व्हट्सएप से अलग-अलग स्टेटस लगाए थे. साथ ही आपत्तिजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया गया था. उक्त संबंध में थाना इज्जतनगर में धारा 504, 506 और 66 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

पाक की जीत पर व्हाट्सऐप पोस्ट करने वाले 3 कश्मीरी छात्र सस्पेंड, आगरा के इंजीनियरिंग कॉलेज का मामला

सीतापुर में बजरंग दल के लोगों ने पुलिस से मुशर्रफ नाम के एक शख्स की शिकायत की है. जिसमें आरोप है कि वह पाकिस्तान की जीत पर भारतीय टीम का मजाक उड़ा रहा है. पुलिस ने उसे भी जेल भेज दिया है. बजरंग दल सीतापुर जिला संयोजक संदीप अवस्थी ने बताया कि मुशर्रफ द्वारा हमारे देश को हमारे धर्म को टारगेट करते हुए आपत्तिजनक शब्द सोशल मीडिया पर लिखे गए. इससे हम हिंदुओं की भावनाओं और देशभक्तों की भावनाओं को ठेस पहुंची है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


देश-प्रदेशः यूपी में पाक की जीत पर जश्न मनाना पड़ा महंगा, होगा देशद्रोह का केस