विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 03, 2019

FIH Olympic Qualifiers: कुछ ऐसे भारत ने रूस को कुचल कर हासिल किया ओलिंपिक का टिकट

Read Time: 20 mins
FIH Olympic Qualifiers: कुछ ऐसे भारत ने रूस को कुचल कर हासिल किया ओलिंपिक का टिकट
रूस को रौंदने के बाद दर्शकों का अभिवादन स्वीकारते भारतीय खिलाड़ी
भुवनेश्वर:

मेजबान भारत की पुरुष हॉकी टीम ने कलिंगा स्टेडियम में खेले गए दो चरण के ओलिंपिक क्वालीफायर में एकतरफा प्रदर्शन करते हुए रूस को 11-3 के एग्रीगेट स्कोर से हरा अगले साल होने वाले टोक्यो ओलम्पिक खेलों के लिए क्वालीफाई कर लिया है. रूस की टीम दोनों चरणों में भारत के सामने नतमस्तक सी ही दिखी. शनिवार को खेले गए दूसरे चरण के मैच में तो भारत ने गोलों की एक तरह से बरसात कर दी और 7-1 से जीत हासिल की. वहीं शुक्रवार को खेले गए पहले चरण के मैच में भी भारत ने रूस को 4-2 से पटका था.

Advertisement

यह भी पढ़ें:  कुछ ऐसे भारतीय महिलाओं ने अमरीका को बड़े अंतर से रौंद डाला

रूस ने शनिवार को जिस तरह की शुरुआत की उसने भारत को परेशानी में डाल दिया. मेजबान टीम ने हालांकि सब्र रखा और धीरे-धीरे मैच में से रूस को बाहर करती चली गई. मैच शुरू होते ही भारत के चेहरे पर उदासी छा गई क्योंकि 30 सेकेंड का ही मैच हुआ था और एलेक्सी सोबोलेव्स्कली ने शानदार फील्ड गोल कर रूस को 1-0 से आगे कर दिया. आठवें मिननट में भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिस पर रमनदीप सिंह गोल करने में विफल रहे.

Advertisement

यह भी पढ़ें:  तीन माह का बैन झेलने के बाद Lionel Messi की अर्जेंटीना फुटबॉल टीम में हुई वापसी

यहां से भारत ने लय हासिल कर ली थी जिसका फायदा उसे दूसरे क्वार्टर में मिला. खेल के 17वें मिनट में अपना 100वां अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रहे ललित उपाध्याय ने भारत के लिए पहला गोल किया. भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिला और हार्दिक सिंह के पास को ललित ने अपनी हॉकी स्टीक से नेट में पहुंचा दिया. रूस की मुसीबत यहां से बढ़ गई क्योंकि 23वें मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला जिसे आकाशदीप ने गोल में बदल भारत को मैच में 2-1 से आगे कर दिया. दूसरे क्वार्टर का अंत समीप था. जाते-जाते आकाशदीप ने एक और गोल कर भारत की बढ़त को 3-1 कर ओलिंपिक के दरवाजे के और करीब पहुंचा दिया.

Advertisement
Advertisement

यह भी पढ़ें:  Rafael Nadal और Novak Djokovic पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल में पहुंचे

रूस काफी पीछे थी लेकिन उसके पास अभी दो क्वार्टर बाकी थे. तीसरे क्वार्टर में उसने कोशिशें की जो विफल रही. वहीं भारत ने भी रूस के घेरे से कदम वापस नहीं लिए और लगातार आक्रमण करती रही. तीसरे क्वार्टर में हालांकि कोई भी गोल नहीं हो सका. चौथे क्वार्टर में भारत ने चार गोल और अपने खाते में डाले. खेल के 47वें मिनट में नीलकांत शर्मा ने गेंद को नेट के कोने में डाला तो वहीं 49वें मिनट में मिले पेनाल्टी कॉर्नर पर रूपिंदर पास सिंह ने गोल कर भारत को 5-1 से आगे कर दिया.

Advertisement

VIDEO: कुछ दिन पहले पीवी सिंधु ने एनडीटीवी से खास बात की थी. 

भारत के सर्वश्रेष्ठ ड्रैग फ्लीकरों में शुमार रूपिंदर यहीं नहीं रुके. उन्होंने 58वें मिनट एक और पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदल दिया.  खेल के 60वें मिनट में अमित रोहिदास ने पेनल्टी कॉर्नर पर एक और गोल कर भारत को मजबूत स्कोर के साथ ओलम्पिक में पहुंचाया

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
FIH Olympic Qualifiers: कुछ ऐसे भारतीय महिलाओं ने अमरीका को बड़े अंतर से रौंद डाला
FIH Olympic Qualifiers: कुछ ऐसे भारत ने रूस को कुचल कर हासिल किया ओलिंपिक का टिकट
We will do work hard for Tokyo Olympic, Says Rani Rampal
Next Article
Tokyo Olympic के लिए हम कड़ा परिश्रम करेंगे, रानी रामपाल ने कहा
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;