World Vegetarian Day 2021: वेजिटेरियन होने के सेहत से जुड़े 7 गजब के फायदे

World Vegetarian Day: वेजिटेरियन डाइट को बढ़ावा देने के लिए हर साल 1 अक्टूबर को विश्व शाकाहारी दिवस मनाया जाता है. तो आइए जानते हैं, वेजिटेरियन या शाकाहारी होने के फायदे.

World Vegetarian Day 2021: वेजिटेरियन होने के सेहत से जुड़े 7 गजब के फायदे

World Vegetarian Day 2021: हर साल 1 अक्टूबर को विश्व शाकाहारी दिवस मनाया जाता है.

खास बातें

  • World Vegetarian Day 2021: अक्टूबर का महीना शाकाहारियों के लिए खास है.
  • हर साल 1 अक्टूबर को विश्व शाकाहारी दिवस मनाया जाता है.
  • आइए जानते हैं वेजिटेरियन या शाकाहारी होने के फायदे.

World Vegetarian Day 2021: अक्टूबर का महीना शाकाहारियों के लिए खास है, क्योंकि महीने की शुरुआत में ही 1 अक्टूबर को वर्ल्ड वेजिटेरियन डे है. मौजूदा समय में लोग सेहत के प्रति ज्यादा सजग हैं, इसलिए दुनिया भर में अधिक से अधिक लोग शाकाहार की ओर बढ़ रहे हैं और पर्यावरण के अनुकूल प्लांट बेस्ड फूड को अपना रहे हैं. एक व्यक्ति को अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक सभी पोषक तत्व प्राप्त करने के लिए मांस खाने की जरूरत नहीं है. मीट-फ्री डाइट कई कारणों से बेहतर स्वास्थ्य की ओर ले जा सकती है. एक कारण यह है कि बहुत से लोग जो शाकाहारी भोजन का पालन करते हैं, वे ताजे, हेल्दी, प्लांट बेस्ड फूड्स का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, जो एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर प्रदान करते हैं. वेजिटेरियन डाइट को बढ़ावा देने के लिए हर साल 1 अक्टूबर को विश्व शाकाहारी दिवस मनाया जाता है. तो आइए जानते हैं वेजिटेरियन या शाकाहारी होने के फायदे.

वेजिटेरियन लोगों को को मिलते हैं ये लाभ | Vegetarian People Get These Benefits

1. शाकाहारी का सेहतमंद दिल

वेजिटेरियन डाइट से शरीर में अतिरिक्त चर्बी बनने की संभावना नॉनवेज के तुलना में कम होती है. जाहिर है अतिरिक्त चर्बी धमनियों में रुकावट का कारण बनती है. ऐसे में शाकाहारी खाना अपनाने वाले का दिल तुलनात्मक रूप से सेहतमंद रहता है.

2. शाकाहार से बेहतर पाचन

मांसाहारी खाने को पचाने में ज्यादा समय लगता है. कई बार ये भोजन हमारी आंतों में ही सड़ने लगता है.  ऐसी स्थिति में इनडाइजेशन, एसिडिटी, गैस या कब्ज जैसी शिकायत होने लगती है. जो कई गंभीर बीमारियों का कारण बनती है.

3. वजन बढ़ने का खतरा कम

मांसाहारी खाने, खासतौर पर रेड मीट में चर्बी काफी अधिक होती है. जिसे खाने से वजन व कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की संभावना काफी अधिक रहती है. जबकि शाकाहारी खाने में ऐसा खतरा कम होता है.

4. ब्लड प्रेशर लिहाज से बेहतर

आज के दौर में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या बहुत आम हो चली है. कई अध्ययनों में ये बात सामने आई है कि मांसाहारी लोगों में उच्च रक्तचाप की संभावना शाकाहारियों से अधिक होती है.  फलों और सब्जियों में पोटेशियम की अच्छी मात्रा होती है, जो ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है.

5. कैंसर का खतरा कम

शाकाहार न केवल कैंसर का खतरा कम करता है, बल्कि कैंसर के सेल्स को मारने में भी सहायक होता है. शाकाहारी खाने में डायटरी फायबर काफी होते हैं, जो कैंसर जैसी घातक बीमारी के खिलाफ प्रतिरोधक की तरह काम करते हैं.

6. टाइप 2 डायबिटीज का खतरा कम

शाकाहारी भोजन करने से टाइप 2 डायबिटीज और संबंधित जटिलताओं को रोकने और इलाज में मदद मिल सकती है. एक अध्ययन के मुताबिक शाकाहारियों में मांसाहारियों के मुकाबले टाइप-2  डायबिटीज होने का खतरा आधा होता है.

7. अस्थमा के लक्षणों को कम करता है

एक पुराने स्वीडिश अध्ययन से पता चलता है कि शाकाहारी भोजन अस्थमा के लक्षणों को कम कर सकता है.इस अध्ययन में एक वर्ष के लिए अस्थमा के कुछ मरीजों को वेजिटेरियन डाइट दी गई. शाकाहारी भोजन करने वाले 24 लोगों में से 22 में सुधार देखा गया, जिसमें दवाओं पर कम निर्भरता भी शामिल है.

सावधान! अश्वगंधा खाने के खतरनाक नुकसान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.