विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Apr 25, 2023

World Malaria Day 2023: मलेरिया से मुक्ति पाने के लिए डब्ल्यूएचओ ने की देशों से स्ट्रेटजी में तेजी लाने की अपील

World Malaria Day: "2020 में पूरी दुनिया में मलेरिया के कारण 6,25,000 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 2021 में यह आंकड़ा 6,19,000 मौत का था. 2020 में मलेरिया के 24 करोड़ 50 लाख नए मामले सामने आए थे, जबकि 2021 में यह आंकड़ा 24 करोड़ 70 लाख था."

World Malaria Day 2023: मलेरिया से मुक्ति पाने के लिए डब्ल्यूएचओ ने की देशों से स्ट्रेटजी में तेजी लाने की अपील
World Malaria Day 2023: साल 2020 में मलेरिया के 24 करोड़ 50 लाख मामले सामने आए थे.

World Malaria Day 2023: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने मलेरिया से प्रभावित देशों से इसकी रोकथाम, पता लगाने और इलाज के लिए हाई इंपेक्ट टूल और स्ट्रेटजी की पहुंच में तेजी लाने की अपील की, ताकि यह कोई भी व्यक्ति इस बीमारी की चपेट में न आए. डब्ल्यूएचओ की साउथ ईस्ट एशिया की रीजनल डायरेक्टर डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह ने विश्व मलेरिया दिवस पर कहा कि कोविड-19 संकट के साए में दुनिया मलेरिया के संदर्भ में डब्ल्यूएचओ की ग्लोबल टेक्नोलॉजी स्ट्रेटजी के दो लक्ष्यों को हासिल कर पाने की स्थिति में फिलहाल नहीं है, जिसमें ग्लोबल अफेयर्स में कमी लाना और 2030 तक इससे संबंधित मृत्यु दर को 90 प्रतिशत या उससे अधिक तक कम करना शामिल है.

कैसे पहचानें कि आपको मलेरिया हो गया है? आसान भाषा में यहां जानें संकेत और बचाव के उपाय

2020 में मलेरिया के 24 करोड़ 50 लाख मामले

उन्होंने बताया कि 2020 में पूरी दुनिया में मलेरिया के कारण 6,25,000 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 2021 में यह आंकड़ा 6,19,000 मौत का था. उन्होंने बताया कि 2020 में मलेरिया के 24 करोड़ 50 लाख नए मामले सामने आए थे, जबकि 2021 में यह आंकड़ा 24 करोड़ 70 लाख था.

इन देशों ने पाई है सफलता:

उन्होंने कहा कि 2020 के अंत तक साउथ ईस्ट एशिया एकमात्र डब्ल्यूएचओ क्षेत्र था, जिसने 2015 की तुलना में मलेरिया के मामलों और मृत्यु दर में 40 प्रतिशत की कमी हासिल की थी, जो जीटीएस के नजरिए से पहले मील का पत्थर था.

कब है विश्व मलेरिया दिवस, जानें इतिहास, महत्व और इस साल की थीम

कोविड-19 से निपटने के साथ-साथ मालदीव और श्रीलंका ने मलेरिया-फ्री देश के तौर पर अपनी स्थिति को बरकरार रखा है और इस क्षेत्र के पांच देश- भूटान, उत्तर कोरिया, नेपाल, थाईलैंड और तिमोर-लेस्ते, उन 25 देशों में शामिल हैं, जिन्हें वैश्विक तौर पर एक ऐसे क्षेत्र के रूप में पहचाना जाता है, जिनमें 2025 तक मलेरिया को खत्म करने की क्षमता है.

Tips To Boost Fertility: प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए करें ये 7 काम, आज ही छोड़ दें ये आदतें...

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
नॉन-स्टिक बर्तनों में खाना बनाने से होता है टेफ्लॉन फ्लू? किन लोगों को है सबसे ज्यादा खतरा, लक्षण और कारण भी जानें
World Malaria Day 2023: मलेरिया से मुक्ति पाने के लिए डब्ल्यूएचओ ने की देशों से स्ट्रेटजी में तेजी लाने की अपील
क्या होती है जेस्टेशनल डायबिटीज? क्या डिलीवरी के बाद खुद ही ठीक हो जाती है प्रेगनेंसी में हुई शुगर की बीमारी? जान लीजिए
Next Article
क्या होती है जेस्टेशनल डायबिटीज? क्या डिलीवरी के बाद खुद ही ठीक हो जाती है प्रेगनेंसी में हुई शुगर की बीमारी? जान लीजिए
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;