Smoking Habit: सबसे बुरी आदतों में से एक ही धूम्रपान, जानें इसके गंभीर दुष्परिणाम और लत छोड़ने के तरीके

How To Quit Smoking: स्मोकिंग की लत जानलेवा होती है. इसे जानने के बाद भी लोग स्मोकिंग को छोड़ना नहीं चाहते है या फिर कुछ दिन के लिए स्मोकिंग करना छोड़ने के बाद फिर से इस लत को अपना लेते है.

Smoking Habit: सबसे बुरी आदतों में से एक ही धूम्रपान, जानें इसके गंभीर दुष्परिणाम और लत छोड़ने के तरीके

How To Quit Smoking: यहां हम आपको बता रहे है कि कैसे इस लत को छोड़ा जा सकता है.

Worst Habits For Health: धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है ये चेतावनी सिगरेट, बीड़ी के पैकेट्स बड़े बड़े अक्षरों में फोटो के साथ छपी होती है, लेकिन उसके बाद भी लोग हेल्थ की फ्रिक को धुंए में उड़ाते हुए नजर आ ही जाते है. ऐसे लोगों को पता नहीं होता है, कि स्मोकिंग की लत उनकी हेल्थ के लिए बहुत खतरनाक है या फिर खतरों से खेलने में ऐसे लापरवाह लोगों को कुछ ज्यादा ही मजा आता है. क्योंकि स्मोकिंग करने से कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी होने के साथ ही कई दूसरी बीमारियां भी होने लगती है. जो समय के साथ जानलेवा भी साबित होती हैं. 

जानिए स्मोकिंग के नुकसान | Know The Disadvantages Of Smoking

अगर आप स्मोकिंग करते है, और उसके बाद भी आपको लगता है कि आप फिट है. तो सपनों की दुनिया को छोड़कर हकीकत का सामना कीजिए. स्मोकिंग की लत आपको धीमे धीमे बीमार कर रही है. स्मोकिंग से केवल कैंसर ही नहीं कई दूसरी बीमारियां भी होती है. 

ब्रेन स्ट्रोक: स्मोकिंग की वजह से ब्रेन स्ट्रोक होने की संभावना 2 से 4 गुना ज्यादा बढ़ जाती है.

स्पर्म काउंट में कमी: स्मोकिंग करने से स्पर्म काउंट कम हो जाता है, ऐसे में स्मोकिंग करने वाले को पिता बनने का सुख मिलने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है 

अस्थमा: सिगरेट या बीड़ी पीते समय जो धुएं को अंदर खींचा जाता है, वो रेस्पिरेटरी सिस्टम में जमने लगता है. इससे श्वास नली में सूजन और अस्थमा होने के संभावना कई गुना बढ़ जाती है.

सांस फूलना: सिगरेट या बीड़ी के धुएं में टार मौजूद होता है. जब हम स्मोकिंग करते है तो यह धुआं फेफड़ों में जमने लगता है. जिसके कारण थकान, सांस फूलने जैसी बीमारियां होने लगती है. 

इसके अलावा दांत खराब, स्किन डैमेज और बवासीर जैसी बीमारियां भी स्मोकिंग के चलते होती है.

कैसे छोड़ें स्मोकिंग की लत | How To Quit Smoking Addiction

किसी भी आदत को छोड़ा जा सकता है. ऐसे में स्मोकिंग करने वाले मन बना लें कि अब उन्हें स्मोकिंग करना छोड़ना है, तो वे इस लत को छोड़ सकते है, यहां हम आपको बता रहे है कि कैसे इस लत को छोड़ा जा सकता है.

1. मिंट चुइंग गम या फिर बाजार में कई ऐसी चुइंग गम उपलब्ध है जो स्मोकिंग की लत को छोड़ने में मदद करती है.

2. शराब और सिगरेट का साथ पुराना है. शराब पीने के बाद सिगरेट पीने की तलब लगती है, इसलिए शराब पीना कम या फिर छोड़ दे.

3. जब भी सिगरेट पीने का मन हो तो अपना ध्यान किसी दूसरे काम में लगाए.

4. एक दिन में नहीं धीरे- धीरे कर स्मोकिंग की लत को कम करें.

5. खुले पैसे न रखें, कई बार खुले पैसे होने के चक्कर में लोग सिगरेट या बीड़ी खरीद लेते है.

रोजाना बस 5 मिनट करें ये एक्सरसाइज, होंगे गजब के फायदे:

अगर आपने स्मोकिंग को छोड़ने का मन बना लिया है, तो स्मोकिंग छोड़ने के बाद एक महीने बाद शरीर का इम्यून सिस्टम फेफड़ों को ठीक करने लगता है. फेफड़ों में स्मोकिंग के कारण जो जहरीला कचरा जम गया है, उसके धीरे धीरे धीरे हमारा इम्यून सिस्टम खत्म करता . हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार फेफड़ों को ठीक होने का समय व्यक्ति की लाइफ स्टाइल, पौष्टिक आहार और एक्सरसाइज पर निर्भर करता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.


हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com