Constipation Causing Foods: ये 7 फूड्स हैं कब्ज के सबसे बड़े कारण, आज से ही खाना छोड़ दें, इन नुस्खों से पाएं कब्ज से छुटकारा!

Home Remedies For Constipation: सिर्फ इसी भरोसे नहीं बैठा जा सकता है कि कब्ज से राहत खुदब-खुद मिल जाएगी. कब्ज से छुटकारा पाने के कारगर तरीकों (Ways To Get Rid Of Constipation) को अपनाना जरूरी है. क्योंकि कई बार देखा जाता है कि लोग कब्ज की समस्या (Constipation Problems) को नजरअंदाज कर देते हैं.

Constipation Causing Foods: ये 7 फूड्स हैं कब्ज के सबसे बड़े कारण, आज से ही खाना छोड़ दें, इन नुस्खों से पाएं कब्ज से छुटकारा!

Food That Causes Constipation: कब्ज से राहत पाने के लिए इन 6 फूड्स का सेवन करने से बचें

खास बातें

  • कब्ज से छुटकारा पाने के लिए यहां हैं कारगर उपाय.
  • इन फूड्स का सेवन करते हैं आप, तो कब्ज कर सकती है परेशान.
  • कब्ज सबसे आम पाचन समस्याओं में से एक है.

Food That Causes Constipation: कब्ज सबसे आम पाचन समस्याओं में से एक है. वयस्कों में कब्ज के लक्षणों (Constipation Symptoms) का अनुभव पेट में सूजन और गैस, बदहजमी, सिरदर्द से होता है. कब्ज जितनी पुरानी या अधिक होती है शारीर उतना ही निष्क्रिय हो जाता है, उतनी ही अधिक संभावना है कि आप इसे बार-बार अनुभव करेंगे. हालाकि सिर्फ इसी भरोसे नहीं बैठा जा सकता है कि कब्ज से राहत खुदब-खुद मिल जाएगी. कब्ज से छुटकारा पाने के कारगर तरीकों (Effective Ways To Get Rid Of Constipation) को अपनाना जरूरी है. क्योंकि कई बार देखा जाता है कि लोग कब्ज की समस्या (Constipation Problems) को नजरअंदाज कर देते हैं. इसका परिणाम यह होता है कि पाचन तंत्र (Digestive System) भी गड़बड़ा जाता है. सबसे पहले तो ऐसे फूड्स से बचने की जरूरत है जो कब्ज का कारण बनते हैं उसके बाद भी किसी कारण से कब्ज होती है.

कब्ज को दूर करने के उपाय (Remedies To Relieve Constipation) कई हैं. कुछ आम तरीके हैं जो ज्यादातर लोगों को पता होंगे कि कब्ज होने पर सबसे पहले पेट को साफ रखने के तरीके अपनाने चाहिए. क्योंकि कब्ज को कैसे दूर करें? (How To Overcome Constipation) जैसे सवाल अक्सर पूछे जाते हैं. कब्ज से राहत पाने के कुछ घरेलू उपाय यहां बताए गए हैं जिनसे आपको कमाल के लाभ मिल सकते हैं...

6 फूड्स जो कब्ज पैदा करते हैं | 6 Foods That Cause Constipation

1. शराब

विशेष रूप से जब बड़ी मात्रा में शराब का सेवन किया जाता है, तो डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है. ये प्रभाव कब्ज के जोखिम को बढ़ा सकता है. ये प्रभाव व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न हो सकते हैं. अगर आपको अक्सर कब्ज की समस्या रहती है तो इसका एक कारण ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन भी हो सकता है.

2. लस युक्त खाद्य पदार्थ

ग्लूटेन एक प्रोटीन है जो अनाज में पाया जाता है जैसे कि गेहूं, जौ, राई, स्पेल्ड, कामोट. कुछ लोग कब्ज का अनुभव कर सकते हैं जब वे खाद्य पदार्थ खाते हैं जिसमें लस होता है. यह एक स्थिति है जिसे ग्लूटेन असहिष्णुता या सीलिएक रोग के रूप में जाना जाता है. कब्ज से बचने के लिए ग्लूटेन वाले फूड्स से परहेज करने की जरूरत है.

4l6s3mto

Causes Of Constipation: ग्लूटेन वाले फूड्स की बजाय फाइबर का सेवन करें

3. प्रोसेस्ड अनाज

संसाधित अनाज और उनके उत्पाद, जैसे कि सफेद चावल, सफेद पास्ता, और सफेद ब्रेड, में साबुत अनाज की तुलना में कम फाइबर होते हैं, जो आम तौर पर अधिक कब्ज बनाते हैं. ऐसे में हमेशा प्रोसेस्ड फूड्स के सेवन से परहेज करना चाहिए.

4. दूध और डेयरी उत्पाद

कम से कम कुछ लोगों के लिए डेयरी कब्ज का एक और सामान्य कारण प्रतीत होता है. गाय के दूध में पाए जाने वाले प्रोटीन के प्रति संवेदनशीलता के कारण शिशु, बच्चे और बच्चे विशेष रूप से जोखिम में दिखाई देते हैं. अगर आप रोजाना ज्यादा मात्रा में डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करते हैं तो आपको कब्ज इनसे भी हो सकती है.

5. रेड मीट

लाल मांस आमतौर पर वसा में उच्च और फाइबर में कम होता है. एक पोषक तत्व संयोजन जो कब्ज के जोखिम को बढ़ा सकता है. अगर आप रेड मीट को अपने आहार में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों की जगह खाते हैं, तो यह कब्ज के जोखिम को और भी बढ़ा सकता है.

red meat

Causes Of Constipation: रेड मीट का सेवन भी कब्ज का कारण बन सकता है 

6. तला हुआ या फास्ट फूड

तले हुए या फास्ट फूड के सेवन से भी कब्ज का खतरा बढ़ सकता है, क्योंकि ये खाद्य पदार्थ वसा में उच्च और फाइबर में कम होते हैं. यह संयोजन पाचन को धीमा कर सकता है जैसे कि लाल मांस करता है. चिप्स, कुकीज, चॉकलेट और आइसक्रीम जैसे फास्ट फूड स्नैक्स के साथ अधिक फाइबर युक्त स्नैक विकल्पों को बदल सकते हैं. इनकी बजाय आप फल और सब्जियों का सेवन करें.

कब्ज से निजात पाने के घरेलू उपाय | Home Remedies To Get Rid Of Constipation


- रात में सोने से पहले एक चम्मच त्रिफला चूर्ण को गर्म पानी के साथ लें.
- सुबह उठकर नींबू के रस में काला नमक मिलाकर सेवन करें.
- रात के भोजन में पपीता का सेवन करें.
- एक गिलास गर्म दूध में दो चम्मच देसी घी डालकर सोने से पहले पिएं.
- रोज 2 चम्मच गुड़ गर्म दूध के साथ लें.
- दूध में सूखे अंजीर को उबाल कर खाएं, और दूध को पी लें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.