Chest Infection से जाम हो जाए छाती और सांस लेने में हो परेशानी तो तुरंत रिकवरी के लिए खाएं ये 6 फूड

How To Get Rid Of Chest Infection: चेस्ट इंफेक्शन आपको बहुत बेचैन कर सकता है और एनर्जी को भी कम कर सकता है. यहां 6 फूड्स हैं जो दर्द को दूर करने और लक्षणों को कम करने में मदद करेंगे. ये फूड्स रिकवरी में तेजी लाने में भी मदद कर सकते हैं.

Chest Infection से जाम हो जाए छाती और सांस लेने में हो परेशानी तो तुरंत रिकवरी के लिए खाएं ये 6 फूड

हल्दी और दालचीनी वाला दूध Chest Infection के लक्षणों में सुधार करने में मदद करता है.

खास बातें

  • कुछ फूड्स चेस्ट इंफेक्शन को दूर कर इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं.
  • ये फूड्स रिकवरी में तेजी लाने में भी मदद कर सकते हैं.
  • छाती का संक्रमण थकाऊ और कष्टप्रद हो सकता है.

Natural Foods For Chest Infection: छाती का संक्रमण थकाऊ और कष्टप्रद हो सकता है. इसे रोकने का एक तरीका है अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत करना. अगर आप श्वसन संक्रमण के लिए सबसे अच्छे भोजन (Good Foods For Chest Infection) की तलाश में हैं, तो विटामिन सी, बी 6 और ई से भरे फूड्स का सेवन करें. संतरा, कीनू, स्ट्रॉबेरी, पालक, सामन और नट्स इन पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं. ताजे फल और सब्जियों से भरपूर डाइट खाने की सलाह दी जाती है. क्या चेस्ट इंफेक्शन और हेल्दी इम्यूनिटी के लिए अच्छा खाना (Good Food For Healthy Immunity) खा रहे हैं. विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत है इसमें संतरे, अंगूर, कीनू, स्ट्रॉबेरी, बेल मिर्च, पालक, केल और ब्रोकोली शामिल हैं. यहां कुछ ऐसे फूड्स के बारे में बताया गया है जो आपके चेस्ट इंफेक्शन को दूर करने में मदद कर सकते हैं.

चेस्ट इंफेक्शन हो जाए तो खाएं ये फूड्स | Best Food To Cure Chest Infection Symptoms

1) टमाटर का सूप

सूप आपके गले को शांत करने और आपकी छाती से जमाव को दूर करने में बहुत मददगार हो सकता है. टमाटर में लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है. लाइकोपीन सीधे सूजन को कम करने से जुड़ा हुआ है और यह आपके फेफड़ों के समग्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए जाना जाता है. एक कटोरी गर्म टमाटर का सूप भी गले को शांत कर सकता है और आपके वायुमार्ग को साफ करने में मदद कर सकता है.

40 की उम्र के बाद पुरुषों को शरीर में दिखें ये बदलाव, तो अलर्ट हो जाएं, लापरवाही पड़ सकती है भारी

2. हल्दी वाला दूध

हल्दी वाला दूध कई बीमारियों के लिए एक पॉपुलर उपाय है. हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो कंजेशन और छाती के संक्रमण के अन्य लक्षणों को ठीक करने में मदद करते हैं. कुछ अध्ययनों से यह भी पता चला है कि नियमित रूप से हल्दी का सेवन करने से फेफड़ों की कार्यक्षमता को बढ़ाया जा सकता है.

3. कॉफी

कॉफी और अन्य कैफीनयुक्त पेय हमारे एनर्जी लेवल को तुरंत बढ़ा देते हैं. एक गर्म कप कॉफी भी आपके गले को आराम प्रदान कर सकती है. कॉफी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है जो आपको अन्य बैक्टीरिया और वायरस जैसे बाहरी रेडिकल्स से बचाने में मदद करती है. कॉफी ने फेफड़ों के कामकाज के मामले में अस्थमा और फेफड़ों से संबंधित अन्य बीमारियों में भी सुधार दिखाया है.

1hd5loi

4. कोको

कोको एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो शरीर को बाहरी रेडिकल्स से लड़ने में मदद करता है. इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं जो कंजेशन को कम करने में मदद कर सकते हैं. गले में खराश और खांसी छाती में संक्रमण के सामान्य लक्षण हैं. गर्म दूध में डार्क चॉकलेट या कोको पाउडर मिलाने से आपकी छाती और गले को बहुत आराम मिलता है.

Thigh Fat से नहीं पहन पा पहे हैं मनपसंद जींस, तो ये Exercise जांघों को कुछ ही दिनों में बना देंगे पतला

5. ग्रीन टी

अन्य कैफीनयुक्त पेय की तरह ग्रीन टी एनर्जी लेवल को बढ़ाने में मदद करती है. इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं जो चेस्ट इंफेक्शन से पीड़ित होने पर आपके लक्षणों की गंभीरता को कम करने में मदद कर सकते हैं. आपके लक्षणों को कम करने पर इसके प्रभाव को और बढ़ाने के लिए शहद के साथ इसका सेवन भी किया जा सकता है.

6. दाल का सूप

अगर आप चेस्ट इंफेक्शन से पीड़ित हैं तो प्रोटीन का अधिक सेवन करना आइडियल है. छाती में संक्रमण आपके एनर्जी लेवल को काफी कम कर सकता है और आपको कम महसूस करा सकता है. इसके साथ ही दाल कई अन्य पोषक तत्वों से भी भरपूर होती है जो आपके फेफड़ों की कार्य करने की क्षमता को बेहतर बनाने में मदद करती है.

पेट की चर्बी को गायब करने के लिए सुबह फॉलो करें ये 6 स्टेप, बनेगी पतली कमर और टोन बॉडी

आप जो खाते हैं वह आपके लक्षणों को काफी बेहतर या खराब कर सकता है. चेस्ट इंफेक्शन बहुत बेचैनी पैदा कर सकता है जिसे हेल्दी, अत्यधिक पोषक और सुखदायक फूड्स खाने से कम किया जा सकता है. इसके अलावा, हम आपको धूम्रपान से परहेज करने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं. धूम्रपान का सीधा संबंध हमारे शरीर, विशेषकर हमारे फेफड़ों के स्वास्थ्य के बिगड़ने से है. यह आपके लक्षणों को भी खराब कर सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.