Mata Mahagauri Puja: आज है महाअष्टमी, ऐसे करें माता गौरी की पूजा और चढ़ाएं ये खास भोग

Durga Ashtami 2021 Puja: आज नवरात्रि का आठवां दिन है. नवरात्रि के आठवें दिन यानि महाअष्टमी (Durga Ashtami 2021) के दिन माता महागौरी की पूजी होती है. मां दुर्गा के आठवें रूप को माता महागौरी कहा जाता है.

Mata Mahagauri Puja: आज है महाअष्टमी, ऐसे करें माता गौरी की पूजा और चढ़ाएं ये खास भोग

Mata Mahagauri Puja: नवरात्रि के आठवें दिन यानि महाअष्टमी के दिन माता महागौरी की पूजी होती है.

खास बातें

  • आज नवरात्रि का आठवां दिन है.
  • माता गौरी का स्वरूप अत्यंत सौम्य है.
  • माता की चार भुजाएं हैं.

Durga Ashtami 2021 Puja:  आज नवरात्रि का आठवां दिन है. नवरात्रि के आठवें दिन यानि महाअष्टमी (Durga Ashtami 2021) के दिन माता महागौरी की पूजी होती है. इस बार नवरात्रि आठ दिन के पड़ रहे हैं. तृतीया और चतुर्थी तिथि एक होने के कारण इस बार 9 दिन की जगह आठ दिन के नवरात्रि है. महाअष्टमी का बहुत महत्व है. मां दुर्गा के आठवें रूप को माता महागौरी (Mata Mahagauri)  कहा जाता है. माना जाता है कि नवरात्रि के दिनों में माता महागौरी की पूजा करने से पापों से मुक्ति मिलती है. पौराणिक कथा के अनुसार माता महागौरी ने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए कई वर्षों तक कठोर तपस्या की थी. तब तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने माता महागौरी को अपनी अर्धांगिनी के रूप में स्वीकार किया था. माता महागौरी वृषभ की सवारी करती हैं. उनका स्वरूप अत्यंत सौम्य है. माता की चार भुजाएं हैं. कही कहीं पर नवरात्रि महाष्टमी के दिन कन्या पूजन (Kanya Pujan) का भी विधान है. 

माता गौरी स्पेशल भोगः (Mata Mahagauri Special Bhog)

आज नवरात्रि का आठवां दिन है. मां दुर्गा के आठवें रूप को माता महागौरी कहा जाता है. नवरात्रि के आठवें दिन यानि महाअष्टमी के दिन माता महागौरी की पूजी होती है. माता महागौरी वृषभ की सवारी करती हैं. उनका स्वरूप अत्यंत सौम्य है. माता की चार भुजाएं हैं. माता गौरी को नारियल और नारियल से बनी चीजों का भोग लगाया जाता है. आप माता को नारियल से बने कोकोनट बॉल्स का भोग लगा सकते हैं. कोकोनट बॉल्स बनाना बहुत आसान है.

si8ihcu8

मां दुर्गा के आठवें रूप को माता महागौरी कहा जाता है. 

सामग्रीः

  • नारियल
  • दूध पाउडर
  • गाढ़ा दूध
  • घी
  • इलायची पाउडर 

विधिः

  • सबसे पहले एक भारी पैन में आधा बड़ा चम्मच घी गर्म कर लें. फिर उसमें नारियल डालकर चार से पांच मिनट के लिए हल्की आंच पर भूनें.
  • नारियल भूनने के बाद आधा कप दूध पाउडर और गाढ़ा दूध मिलाएं.
  • इसको लगातार चलाते रहें.
  • फिर इसमें इलायची पाउडर डाल दें. जब मिक्स्चर गाढ़ा हो जाए तो आंच बंद कर दें.
  • मिक्स ठंडा होने के बाद हाथ से हल्का दबा कर गोलाकार में लड्डू बना लें.

माता महागौरी की पूजा विधिः (Mata Mahagauri Pujan Vidhi)

नवरात्रि के आठवें दिन माता महागौरी की पूजा की जाती है. सुबह स्नान आदि करके माता की पूजा करें. पूजा में गंगा जल, शुद्ध जल, कच्चा दूध, दही, पंचामृत, वस्त्र, सौभाग्य सूत्र, चंदन, रोली, हल्दी, सिंदूर, दुर्वा, बिल्वपत्र, आभूषण,पान के पत्ते, पुष्प-हार, सुगंधित द्रव्य, धूप-दीप, नैवेद्य, फल, धूप, कपूर, लौंग, अगरबत्ती से माता की पूजा की जाती है. माना जाता है कि माता को रात की रानी के फूल अति प्रिय है.

माता महागौरी मंत्रः (Mata Mahagauri Mantra)

या देवी सर्वभूतेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता.
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:

Ashwagandha: Uses, Side Effects, Interactions, Dosage | सावधान! अश्वगंधा खाने के खतरनाक नुकसान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.
फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहें.
कितनी फायदेमंद है DASH Keto, क्‍या खाएं और क्‍या नहीं- स्मृति चतुर्वेदी आहार विशेषज्ञ
Better Sleep: अच्छी नींद के लिए सोने से पहले क्या न खाएं - न्यूट्रीशियनिस्ट स्मृति चतुर्वेदी
Navratri 2021 Vrat: नवरात्रि व्रत में दही खाने के अद्भुत फायदे
Vitamin B12: विटामिन बी12 के स्रोत क्‍या हैं, क्‍यों जरूरी है, ब्रेन हेल्‍थ कैसे करता है बूस्‍ट, जानें एक्‍सपर्ट से.....