Ganesh Chaturthi 2021: कब है गणेश चतुर्थी, जानें शुभ मुहूर्त और प्रसाद रेसिपी

Ganesh Chaturthi 2021 Date: वैसे तो देश भर में गणेश पूजा पर धूम रहती है लेकिन महाराष्ट्र में इसका महत्व विशेष है. वहीं अन्य राज्यों जैसे गुजरात, कर्नाटक, तेलंगाना, यूपी और आंध्र प्रदेश में भी काफी धूमधाम से गणेश उत्सव मनाया जाता है. 

Ganesh Chaturthi 2021: कब है गणेश चतुर्थी, जानें शुभ मुहूर्त और प्रसाद रेसिपी

लंबोदर को प्रसन्न करने के लिए भक्त उन्हें मोदक का भोग लगाते हैं.

Ganesh Chaturthi 2021 Date:  श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के बाद अब गणेश चतुर्थी को लेकर उत्साह बना हुआ है. देश भर में गणेश उत्सव धूमधाम से मनाने की परंपरा रही है. इस बार 10 सितंबर को श्री गणेश चतुर्थी मनाई जाएगी. यूं तो देश भर में गणेश पूजा पर धूम रहती है लेकिन महाराष्ट्र में इसका महत्व विशेष है. वहीं अन्य राज्यों जैसे गुजरात, कर्नाटक, तेलंगाना, यूपी और आंध्र प्रदेश में काफी धूमधाम से गणेश उत्सव मनाया जाता है. 

 

गणेश उत्सव कहीं दो या तीन दिनों तक तो कहीं दस दिनों तक मनाया जाता है. गणेश पूजा को महोत्सव के रूप में दस दिनों तक मनाने के बाद  अनंत चतुर्दशी पर भगवान गणेश को विदाई देने की परंपरा है. विसर्जन पर जहां एक ओर भगवान श्री गणेश के भक्त झूमते-गाते हैं तो वहीं उनके अगले साल लौटने की प्रार्थना भी होती है. 

गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त:

हिंदू मान्यताओं के अनुसार किसी भी शुभ काम की शुरुआत से पहले भगवान गणेश की पूजा होती है. गणेश चतुर्थी पर शुभ मुहूर्त में पूजा करने का  खास महत्व है. आपको बता दें कि इस बार गणेश चतुर्थी 10 सितंबर को है, वहीं शुभ मुहूर्त इस दिन 12:17 बजे शुरू होकर और रात 10 बजे तक रहेगा. पूजन के दौरान भगवान गणेश के मंत्र का जाप जरूर किया जाता है. श्री गणेश जी को सिंदूर लगाएं, इसके बाद ॐ गं गणपतयै नम:' मंत्र बोलते हुए दूर्वा चढ़ा दें. पूजन के दौरान श्री गणेश स्तोत्र का पाठ करना शुभ होता है.

o57njf3g

हिंदू मान्यताओं के अनुसार किसी भी शुभ काम की शुरुआत से पहले भगवान गणेश की पूजा होती है. 

गणेश चतुर्थी स्पेशल मोदक भोग:

आप अपने घर में श्री गणेश को विराजमान करना चाहते हैं तो उनके लिए प्रसाद में क्या विशेष बनाना है ये जानना भी जरूरी है. श्री गणेश को सबसे प्रिय मोदक है, कहते हैं कि उन्हें मोदक का भोग लगाने से वे प्रसन्न होते हैं. चलिए आप को बड़े ही आसान तरीके से मोदक बनाना सिखाते हैं. सबसे पहले धीमी आंच पर कढ़ाई या पैन में मावा और शक्कर डाल कर चढ़ाएं. चीनी पिघलते ही मावा में केसर मिला दें और फिर गाढ़ा हो जाने तक चलाते रहें. गाढ़ा हो जाने पर गैस को बंद कर दें और इसमें जरा सी इलाइची मिला लें. ये मिक्सचर ठंडा होने दें फिर इसे आटे या मैदे की लोई में भर कर फ्राई कर सकते हैं.

डॉक्‍टरों ने कहा था Count Your Days,अब कैंसर को हरा खुशियां गिन रहा है अमित


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.