Ganesh Vastu Tips: घर के पूजा मंदिर में गणेश-लक्ष्‍मी की मूर्ति कैसे रखें, वास्तु का अनुसार जानें यहां

Ganesh Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में भगवान गणेश और मां लक्ष्मी से जुड़े कुछ वास्तु टिप्स बताए गए हैं. मान्यता है कि घर के पूजा मंदिर में लक्ष्मी और गणेश जी मू्र्ति सही दिशा में रखने से बरकत होती है.

Ganesh Vastu Tips: घर के पूजा मंदिर में गणेश-लक्ष्‍मी की मूर्ति कैसे रखें, वास्तु का अनुसार जानें यहां

Ganesh Vastu Tips: घर में लक्ष्मी-गणेश जी की मूर्ति रखते समय इस बातों का रखा जाता है खास ख्याल.

खास बातें

  • घर में लक्ष्मी जी की मूर्ति रखने की है खास विधि.
  • वास्तु के अनुसार, घर में ऐसे रखी जाती है लक्ष्मी-गणेश जी की मूर्ति.
  • वास्तु अनुसार मां लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति के साथ नहीं करना चाहिए ऐसा

Ganesh Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में भगवान गणेश और मां लक्ष्मी को शुभ और लाभ का प्रतीक माना गया है. यही कारण है कि वास्तु (Vastu)के जानकार इस बात पर जोर देकर कहते हैं कि इनका सही दिशा में होना बेहद जरूरी है. वास्तु शास्त्र में इस बात का जिक्र किया गया है कि घर के मंदिर में अगर मां लक्ष्मी की मूर्ति सही दिशा में है तो विशेष लाभ प्राप्त होता है. आइए वास्तु शास्त्र के अनुसार जानते हैं कि लक्ष्मी-गणेश जी की मूर्ति किस दिशा में रखना सबसे अच्छा है. 

एक साथ रखी जाती है लक्ष्मी-गणेश जी की मूर्ति

हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, भगवान गणेश बुद्धि और ज्ञान के देवता हैं. साथ ही मां लक्ष्मी को धन और ऐश्वर्य की देवी के रूप में स्वीकार किया गया है. घर के पूजा स्थल या दफ्तर या किसी अन्य स्थान पर भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की मूर्ति को हमेशा एकसाथ रखा जाता है. साथ ही विशेष शुभ मुहूर्त दिवाली या अक्षय तृतीया के दिन विशेष पूजा-अर्चना की जाती है. इन दोनों देवी देवता की मूर्ति एकसाथ रखन के पीछे कारण यह है कि अगर व्यक्ति के पास ज्ञान नहीं होगा तो वह धन का इस्तेमाल गलत कार्यों में कर सकता है. इसलिए कि गणेश जी और मां लक्ष्मी की मूर्ति को एक साथ रखना चाहिए. 

Rakshabandhan 2022: भद्राकाल में राखी ना बांधने के पीछे क्या है कारण, जानें रक्षा बंधन के दिन भद्रा कब से कब तक

घर के मंदिर में इस दिशा में रखें लक्ष्मी-गणेश की मूर्ति

घर के पूजा मंदिर में भी लक्ष्मी जी और भगवान गणेश की मूर्ति को एकसाथ रखा जाता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर के पूजा मंदिर में मां लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति को उत्तर दिशा में रखना चाहिए. इसके पीछे एक कथा आती है. कथा के अनुसार एक बार भगवान शिव ने गुस्से में आकर गणेश जी की सिर धड़ से अलग कर दिया था. जब उनको यह पता चला कि यह उनके ही पुत्र हैं तो उन्होंने अपने दूतो को उत्तर दिशा में भेजते हुए कहा कि जो सबसे पहले मिल जाए उसका सिर लेकर आओ. शिव जी की आज्ञा से दूत ऐरावत हाथी का सिर लेकर आ गए. उत्तर दिशा में सबसे पहले सिर मिलने के कारण गणेश जो रखने के लिए उत्तर दिशा शुभ मानी जाती है. 

मूर्ति के साथ भूल से भी ना करें ऐसा 

कई बार लोग अज्ञानतावश मां लक्ष्‍मीजी की मूर्ति को गणेशजी की बाईं ओर रख देते हैं. ऐसी स्थिति अच्छी नहीं मानी जाता है. माना जाता है कि ऐसा करने से घर की आर्थिक स्थिथि पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है. दरअसल पुरुषों के बाईं ओर उनकी पत्‍नी को बैठाया जाता है. जबकि लक्ष्‍मीजी गणेशजी की पत्‍नी नहीं हैं इसलिए उनको गणेशजी के बाईं ओर बैठाने से आपके धन की स्थिति बिगड़ने लगती है. ऐस में घर के पूजा मंदिर में मां लक्ष्‍मी की प्रतिमा को गणेशजी के दाईं ओर ही रखें.

Vastu Tips: मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए बेहद खास हैं ये उपाय, घर में रहती है धन की बरकत!

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.) 

मॉनसून स्किन केयर टिप्स बता रही हैं ब्यूटी एक्सपर्ट भारती तनेजा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com