पुरी के जगन्नाथ मंदिर में आरटीपीसीआर जांच और टीका प्रमाणपत्र की अनिवार्यता खत्म

श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजीटीए) की ओर से ये नए आदेश जारी किए गए हैं जिनके मुताबिक आरटीपीसीआर जांच और नेगेटिव रिपोर्ट की अब आवश्यकता नहीं होगी.

पुरी के जगन्नाथ मंदिर में आरटीपीसीआर जांच और टीका प्रमाणपत्र की अनिवार्यता खत्म

Puri Jagannath Temple में कोविड जांच और टीकाकरण की अनिवार्यता खत्म हुई.

ओडिशा में पुरी स्थित जगन्नाथ मंदिर में प्रवेश के लिए आरटीपीसीआर जांच (RTPCR Test) और कोविड-19 टीके की दो खुराक लगवाने का प्रमाणपत्र दिखाने की अनिवार्यता अब नहीं होगी. प्रशासन ने सोमवार को ऐलान किया कि अब श्रद्धालुओं को नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट और टीकाकरण प्रमाणपत्र के बिना भी मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी जायेगी. अधिकारियों ने कहा कि यह फैसला कोविड-19 के मामलों के कम होने के मद्देनजर लिया गया है. इसके पहले श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश से पहले टीके की दोनों खुराक लेने का प्रमाणपत्र और 72 घंटों के अंदर की नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट दिखानी पड़ती थी.

puri jagannath temple

श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजीटीए) की ओर से जारी नये आदेश के मुताबिक श्रद्धालुओं को रविवार को छोड़कर हर दिन सुबह छह बजे से रात नौ बजे तक मंदिर में दर्शन करने की अनुमति दी जाएगी. रविवार को साफ-सफाई के लिए मंदिर बंद रहेगा.

आदेश में कहा गया कि मंदिर में प्रवेश के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करना और मास्क पहनना अनिवार्य होगा. इसमें कहा गया है कि मंदिर में वरिष्ठ नागरिकों के लिए अलग से पंक्ति की व्यवस्था रहेगी. एसजीटीए के मुख्य प्रशासक कृष्ण कुमार ने कहा कि नियमों की समय-समय पर समीक्षा करके संशोधित निर्देश जारी किये जायेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)