विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 04, 2022

Navratri 2022 Parana: नवरात्रि व्रत का पारण कब करें, जानें कलश विसर्जन के लिए शुभ मुहूर्त और विधि

Navratri 2022 Parana Muhurat: नवरात्रि के 9वें दिन कन्या पूजन और हवन के बाद व्रत का पारण किया जाता है. नवरात्रि व्रत का पारण नवमी तिथि की समाप्ति पर किया जाता है.

Read Time: 3 mins
Navratri 2022 Parana: नवरात्रि व्रत का पारण कब करें, जानें कलश विसर्जन के लिए शुभ मुहूर्त और विधि
Navratri 2022 Vrat Parana: नवरात्रि के महा नवमी पर व्रत का पारण किया जाता है.

Navratri 2022 Parana Muhurat and Vidhi: आज कन्या पूजन और हवन के साथ शारदीय नवरात्रि का समापन हो रहा है. हिंदू धर्म में शारदीय नवरात्रि के अत्यधिक महत्व है. नवरात्रि में 9 दिनों तक मा दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की उपासना होती है. नवरात्रि के नौवें दिन कन्या पूजन और हवन के साथ व्रत पूर्ण होता है. इसके साथ ही इस दिन कलश विसर्जन भी किया जाता है. कुछ लोग दशमी तिथि को भी कलश विसर्जन करते हैं. जो लोग नवरात्रि में पूरे 9 दि व्रत रखते हैं, वे नवमी तिथि को व्रत का पारण करते हैं. एक मान्यता के अनुसार नवमी तिथि को सूर्यास्त के बाद व्रत का पारण किया जा सकता है. वहीं दूसरे मत के मुताबिक पारण के लिए दशमी तिथि भी उत्तम होती होती है. आइए जानते हैं नवरात्रि व्रत के पारण के लिए सही तिथि और विधि.

नवरात्रि पारण के लिए उत्तम तिथि | Navratri 2022 Parana Date 

धर्म ग्रंथों के मुताबिक नवरात्रि व्रत पारण के लिए सबसे उत्तम तिथि नवमी तिथि की समाप्ति और दशमी तिथि के आरंभ का होता है. इस संबंध में कई पंडितों और ज्योतिष शास्त्र के जानकारों का कहना है कि शारदीय नवरात्रि का व्रत प्रतिपदा तिथि से नवमी तिथि तक ही करना चाहिए.

Maha Navami 2022: महा नवमी पर इन शुभ मुहूर्तों में करें कन्या पूजन, जानें सही विधि

नवरात्रि का पारण 2022 शुभ मुहूर्त | Navratri 2022 Parana Shubh Muhurat

नवरात्रि पारण समय- नवरात्रि व्रत का पारण 4 अक्टूबर को नवमी तिथि दोपहर 2 बजकर 20 मिनट से बाद किया जा सकता है. दरअसल नवमी तिथि की समाप्ति आज दोपहर 2 बजकर 20 मिनट पर हो रही है. 

दशमी तिथि को मां दुर्गा की प्रतिमा और कलश का विसर्जन

मां दुर्गा की प्रतिमा और कलश का विसर्जन 5 अक्टूबर यानी दशमी तिथि को सुबह 6 बजकर 16 मिनट से 8 बजकर 37 मिनट तक किया जा सकता है. 

नवरात्रि व्रत का पारण कैसे करें | Navratri Vrat ka Paran kaise karen

नवरात्रि की नवमी तिथि पर आज मां सिद्धिदात्री की विधिवत पूजा करें. साथ ही 9 कन्या और कलश की पूजा भी करें. इसके साथ ही मां को हलवा, पूड़ी और चने का भोग लगाएं. इसके बाद कन्या पूजन और उनको भोजन कराने के बाद हवन करें. इसके बाद कलश का विसर्जन करें. अगर नवमी तिथि को नवरात्रि का पारण कर रहे हैं तो ऐसे में इन बातों का विशेष ध्यान रखें.

Navratri 9th Day: नवरात्रि का आखिरी दिन आज, जानें मां सिद्धिदात्री की पूजा विधि, भोग और शुभ रंग

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

जम्मू कश्मीरः नवरात्रि के दौरान हिंदुओं के लिए माला बनाते हैं मुसलमान ​

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कब है वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण, जानिए यह ग्रहण कहां कहां आएगा नजर
Navratri 2022 Parana: नवरात्रि व्रत का पारण कब करें, जानें कलश विसर्जन के लिए शुभ मुहूर्त और विधि
Vikata Sankashti Chaturthi: विकट संकष्टी चतुर्थी व्रत रखने से मिलता है परेशानियों से छुटकारा
Next Article
Vikata Sankashti Chaturthi: विकट संकष्टी चतुर्थी व्रत रखने से मिलता है परेशानियों से छुटकारा
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;