दिल्ली : बाउंसर लेकर चलता था BJP का युवा नेता! ऑक्सीजन सिलेंडर देने के नाम पर लोगों को ठगा

पुलिस के मुताबिक, आरोपी रितिक जहां भी चलता बाउंसरों के साथ चलता था. वो महंगे होटलों में रुकता. उसका दावा है कि उसके संगठन इंडिया यूथ आइकॉन से 18 लाख लोग जुड़े हैं.

दिल्ली : बाउंसर लेकर चलता था BJP का युवा नेता! ऑक्सीजन सिलेंडर देने के नाम पर लोगों को ठगा

पुलिस ने रितिक और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है.

खास बातें

  • ऑक्सीजन सिलेंडर देने के नाम पर ठगी
  • आरोपी ने खुद को बताया बीजेपी नेता
  • सोशल मीडिया पर 18 लाख फॉलोवर
नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है, जो खुद को BJP का युवा नेता बताता है. बीजेपी के तमाम नेताओं के साथ उसकी तस्वीरें भी हैं. वो इंडिया यूथ आइकॉन नाम के संगठन का राष्ट्रीय अध्यक्ष भी है. सोशल मीडिया पर उसके 18 लाख फॉलोवर हैं लेकिन उसका कारनामा सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. पुलिस ने उसे कोरोना मरीजों और उनके परिवारों के साथ ऑक्सीजन सिलेंडर देने के नाम पर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. उसका साथी भी पकड़ा गया है.

पकड़े गए आरोपी का नाम रितिक कुमार सिंह और और उसके साथी का नाम संदीप पांडे है. रितिक बिहार के आरा का रहने वाला है जबकि संदीप यूपी के गाजीपुर का है. फिलहाल दोनों ग्रेटर नोएडा में रह रहे हैं. पुलिस के मुताबिक, दिल्ली के विवेक विहार के रहने वाले एक शख्स ने शिकायत कर बताया कि उसने इंस्टाग्राम पर देखा कि शख्स ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया करवा रहा है.

Remdesivir से ऑक्सीजन सिलेंडर तक के नाम पर ठगी, दिल्ली पुलिस ने 100 से ज्यादा FIR दर्ज कीं

उसने बताए गए नंबर पर 2 ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए 14,000 रुपये पेटीएम कर दिए, क्योंकि उसकी मां कोरोना से पीड़ित थीं और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत थी, लेकिन पैसा भेजते ही वो नंबर बंद हो गया. इस मामले में शाहदरा जिले के विवेक विहार थाने में केस दर्ज किया गया है.

जांच के दौरान पुलिस ने ग्रेटर नोएडा से रितिक कुमार सिंह और उसके दोस्त को पकड़ लिया. पुलिस के मुताबिक, रितिक इसी तरह से 50 से ज्यादा लोगों को ठग चुका है. उसके कई बैंक अकाउंट हैं, जिसमें ठगी से कमाए गए लाखों रुपये मिले हैं. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वो कोरोना पीड़ितों की मदद करने के लिए वॉट्सएप, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर कुछ मोबाइल नंबर डालते थे. इन नंबरों पर जो संपर्क करता, उनसे ये लोग ठगी कर लेते थे.

उत्तर प्रदेश : CM योगी का OSD बनकर कर रहे थे वसूली, 4 आरोपी गिरफ्तार


पुलिस के मुताबिक, रितिक जहां भी चलता बाउंसरों के साथ चलता था. वो महंगे होटलों में रुकता. उसका दावा है कि उसके संगठन इंडिया यूथ आइकॉन से 18 लाख लोग जुड़े हैं. उसने कॉलेजों में एडमिशन दिलाने के लिए कंसल्टेंसी फर्म खोली हुई है. वहीं संदीप पांडे का कहना है कि उसकी ग्रेटर नोएडा में एक आटा मिल है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: हत्या के मामले में पहलवान सुशील कुमार गिरफ्तार, साथी भी पकड़ा गया