Bitcoin, Ethereum की तेजी देखकर निवेश करना चाहते हैं तो पहले जान लीजिए कैसे खरीदते हैं Cryptocurrency

Cryptocurrency Investment : Bitcoin, Ethereum जैसे कॉइन अपने रिकॉर्ड हाई को छू रहे हैं, वहीं कई दूसरे Altcoins का कद ऊंचा हुआ है. ऐसे में अगर आप भी इस सबसे चकित हैं और क्रिप्टो निवेशक बनना चाहते हैं तो ये कॉइन खरीदने जैसी बेसिक चीज के बारे में हम आपको यहां बता रहे हैं.

Bitcoin, Ethereum की तेजी देखकर निवेश करना चाहते हैं तो पहले जान लीजिए कैसे खरीदते हैं Cryptocurrency

Cryptocurrency इकोसिस्टम से जुड़े हैं करोड़ों निवेशक. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

क्रिप्टोकरेंसी इकोसिस्टम को भले ही आधिकारिक तौर पर कानूनी मान्यता नहीं मिली हुई है, लेकिन इसमें कोई दोराय नहीं है कि यह निवेश का एक पॉपुलर माध्यम बन चुका है. आज भारत में ही करोड़ों की संख्या में निवेशक इससे जुड़ चुके हैं और हर रोज इसका दायरा बढ़ता जा रहा है. केंद्रीय रिजर्व बैंक अब भी क्रिप्टोकरेंसी को लेकर बहुत सकारात्मक रुख नहीं रखता है, वहीं, सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी का नियमन करने के लिए बिल लाने की बात कही है. ऐसे में कभी एक क्रेज़ के तौर पर देखी जाने वाली वर्चुअल करेंसी की दुनिया आज बहुत आगे निकल आई है. पॉपुलैरिटी बढ़ने के साथ-साथ पिछले कुछ वक्त में कई क्रिप्टोकरेंसीज़ की कीमतों में जबरदस्त उछाल देखी गई है. Bitcoin, Ethereum जैसे कॉइन अपने रिकॉर्ड हाई को छू रहे हैं, वहीं कई दूसरे Altcoins का कद ऊंचा हुआ है. ऐसे में अगर आप भी इस सबसे चकित हैं और क्रिप्टो निवेशकर बनना चाहते हैं तो ये कॉइन खरीदने जैसी बेसिक चीज के बारे में हम आपको यहां बता रहे हैं.

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर बनाना होगा अकाउंट

वर्चुअल करेंसी खरीदने-बेचने से पहले आपको एक किसी क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज (Cryptocurrency Exchange) के साथ एक ट्रेडिंग अकाउंट खोलना होगा. भारत में बहुत से अलग-अलग क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज काम कर रहे हैं. इनपर थोड़ा रिसर्च करके आप अपनी पसंद का एक्सचेंज चुन सकते हैं. हमारी सलाह है कि आप ऐसे एक्सचेंज के साथ ट्रेडिंग शुरू करें, जो भारत में रजिस्टर्ड हो और इसका एक ऑफिस यहां जरूर हो. साथ ही एक्सचेंज आपकी सुरक्षा के लिए KYC वेरिफिकेशन करते हैं, तो ऐसा ही एक्सचेंज चुनें जो सुरक्षा नियमों का पालन करता हो.

एक्सचेंज बताते हैं कि वो किस क्रिप्टोकरेंसी में डीलिंग और ट्रांजैक्शन करते हैं, तो अकाउंट खुलवाने से पहले देख लें कि आप जिस क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना चाहते हैं, वो एक्सचेंज उसमें डील करता है या नहीं.

ये भी पढ़ें- Bitcoin ETF : क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की नई शुरुआत, अब इन्वेस्ट कर सकेंगे बिटकॉइन फ्यूचर में

क्रिप्टोकरेंसी खरीदिए

अकाउंट खुल जाने और केवाईसी प्रोसेस पूरा हो जाने के बाद आप कभी भी ट्रेडिंग शुरू कर पाएंगे. आपको क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए एक्सचेंज पर पेमेंट मेथड में अपना बैंक अकाउंट लिंक करना होगा, जहां से क्रिप्टोकरेंसी खरीदने पर पैसे कटेंगे. अब इसके बाद आपको ऑर्डर देना होगा. जो भी क्रिप्टोकरेंसी खरीदना है, जितना भी खरीदना है, ये सब बताना होगा. इसके बाद ध्यान रखिए कि ऑर्डर फाइनल करने से पहले सबकुछ अच्छे से री-चेक कर लें. कोई भी ऑप्शन जल्दबाजी में क्लिक न करें. आपके ऑर्डर का प्रीव्यू स्क्रीन पर दिखेगा, उसे भी अच्छे से देख लीजिए. 

जो क्रिप्टो कॉइन आप खरीद रहे हैं, उसका मार्केट में प्राइस चेक कर लीजिए. ट्रेडिंग में वो क्रिप्टो कैसा चल रहा है, ये सारी जानकारियां चेक कर लें. अपनी रिसर्च जरूर कर लें क्योंकि क्रिप्टो मार्केट बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव का शिकार होता है. अब अगर आपने हर पहलू पर विचार कर लिया है, तो इसके बाद ही 'buy' पर क्लिक करें.

क्रिप्टो कॉइन को करना होगा स्टोर


क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के बाद आपको इसे स्टोर करना होगा. बहुत से एक्सचेंज उसी प्लेटफॉर्म पर स्टोरेज फैसिलिटी देते हैं, लेकिन अच्छा होगा कि आप अपना असेट क्रिप्टो वॉलेट में स्टोर करें, खासकर कोल्ड क्रिप्टो वॉलेट में. हॉट क्रिप्टो वॉलेट हमेशा ऑनलाइन रहता है और इसलिए कोल्ड वॉलेट की अपेक्षा उतना सुरक्षित नहीं होता.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : भारत में क्रिप्टोकरेंसी खरीदने वाले सबसे ज्यादा लोग, किस उम्र के हैं ज्यादा यूजर?