Bitcoin ETF : क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की नई शुरुआत, अब इन्वेस्ट कर सकेंगे बिटकॉइन फ्यूचर में

Bitcoin ETF : ETFs की एक शीर्ष कंपनी ProShares एक वायदा बाजार में बिटकॉइन का ETF स्वरूप ला रही है, जिसमें निवेशक सीधे वहीं से निवेश कर सकेंगे. यह वैसा ही होगा, जैसा कि वायदा बाजार में किसी प्रॉडक्ट में निवेश करते हैं.

Bitcoin ETF : क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की नई शुरुआत, अब इन्वेस्ट कर सकेंगे बिटकॉइन फ्यूचर में

Wall Street पर Bitcoin Future में निवेश. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पॉपुलर और सबसे पुरानी क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin अब मेनस्ट्रीम निवेश के माध्यमों का हिस्सा बनने जा रही है. न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर मंगलवार को बिटकॉइन का एक्सचेंज ट्रेडेड फंड यानी ETF शुरू हो रहा है. ETFs की एक शीर्ष कंपनी ProShares एक वायदा बाजार में बिटकॉइन का ETF स्वरूप ला रही है, जिसमें निवेशक सीधे वहीं से निवेश कर सकेंगे. यह वैसा ही होगा, जैसा कि वायदा बाजार में किसी प्रॉडक्ट में निवेश करते हैं. कंपनी ने कहा है कि वो फ्यूचर इंडेक्स के तहत "BITO" टिकर नाम से बिटकॉइन फ्यूचर लॉन्च करेगी. म्युचुअल फंड में एक दिन में एक बार ट्रेडिंग होती है, लेकिन उसके उलट ETFs में पूरा दिन ट्रेडिंग की जाती है.

क्रिप्टो निवेशक काफी वक्त से इस लॉन्चिंग का इंतजार कर रहे हैं. इसके चलते पिछले दिनों बिटकॉइन की कीमत ने एक बार फिर 62,000 डॉलर का आंकड़ा पार कर लिया था. अप्रैल, 2021 के बाद से बिटकॉइन में ऐसी तेजी नहीं दिखी है.

ProShares ने कहा कि निवेशक सीधे डिजिटल करेंसी में निवेश करने के बजाय BITO के जरिए बिटकॉइन फ्यूचर में निवेश कर पाएंगे. 

ये भी पढ़ें : 
Cryptocurrency का हब बन रहा है इंडिया? रिपोर्ट में खुलासा- क्रिप्टो मालिकों की संख्या सबसे ज्यादा भारत में
Facebook के नहीं चल रहे अच्छे दिन, अब मार्केट कैप की हैसियत में Bitcoin ने छोड़ा पीछे

BITO से अब बिटकॉइन के दरवाजे निवेशकों की उस बड़ी तादाद के लिए खुल जाएंगे, जिनके पास अपना ब्रोकरेज अकाउंट और वो स्टॉक या ETFs में निवेश करने को लेकर सहज महसूस करते हैं. ऐसे निवेशक जो बिटकॉइन में निवेश करने के लिए अलग से न तो क्रिप्टोकरेंसी अकाउंट या वॉलेट सेटअप करना चाहते हैं, न ही इसके सुरक्षा या नियमन संबंधी शंकाओं का सामना करना चाहते हैं., 


Securities and Exchange Committee ने ProShares फंड की लॉन्चिंग पर कोई आपत्ति नहीं जताई है, लेकिन एजेंसी ने निवेशकों से अपील की है कि वो इस फंड में निवेश करने की संभावित लाभ-नुकसान को देखकर ही फैसला लें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि बिटकॉइन ETF की शुरुआत तब हो रही है, जब क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज Coinbase की अभी छह महीने पहले ही Nasdaq पर प्रीमियरिंग हुई है. इस कंपनी की शुरुआत 2012 में हुई थी और इसका वैल्यूएशन अब 75 बिलियन डॉलर से ज्यादा हो चुका है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)