महाराष्ट्र : 100-150 CCTV फुटेज खंगालने के बाद पुलिस ने सुलझाया उल्हासनगर डकैती केस, चार को दबोचा

पुलिस ने बुधवार को एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि इसके बाद विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया. पुलिस के आठ दलों को इसकी जांच का जिम्मा सौंपा गया था.

महाराष्ट्र :  100-150 CCTV फुटेज खंगालने के बाद पुलिस ने सुलझाया उल्हासनगर डकैती केस, चार को दबोचा

प्रतीकात्मक तस्वीर.

ठाणे (महाराष्ट्र):

ठाणे पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार करने के साथ ही यहां उल्हासनगर शहर में एक मकान से 10.4 लाख रुपये की नकदी तथा कीमती सामान की लूट के मामले को सुलझाने का दावा किया है.

पुलिस ने बताया कि 30 अगस्त को हथियारबंद लुटेरे एक धार्मिक संप्रदाय स्वामी दामराम साहिब दरबार के एक पुजारी के घर में घुसे थे. उन्होंने सोने तथा चांदी के आभूषणों के अलावा 80,000 की नकदी लूटने से पहले पुजारी के बेटे पर हमला भी किया था.

पुलिस ने बुधवार को एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि इसके बाद विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया. पुलिस के आठ दलों को इसकी जांच का जिम्मा सौंपा गया था.

पुलिस ने ठाणे के मुंब्रा और कल्याण इलाकों, पड़ोसी रायगढ़ जिले और मुंबई में विभिन्न स्थानों पर 100 से 150 सीसीटीवी फुटेज खंगाले तथा इससे उन्हें एक कार का पता लगा, जिसका इस्तेमाल अपराध में किया गया था.

विज्ञप्ति के अनुसार, बाद में यह कार मुंब्रा में मिली और कार के मलिक अकबर इमरान खान ने पुलिस को बताया कि उसने तथा कुछ अन्य लोगों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था.

इस सूचना के आधार पर पुलिस ने आसिफ वारिस अली शेख, शिवलिंग वीरसिंह सिकलकर और राहुलसिंह बबलूसिंह जूनी नाम के तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)