दिल्ली : 5 दिन से लापता युवती का मिला शव, हत्या के बाद दोस्त ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान - पुलिस

पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में ऐसा लगता ही कि वर्षा की हत्या करने के बाद उसके सहयोगी सोहन लाल ने खुदकुशी कर अपनी जान दे दी है.

दिल्ली : 5 दिन से लापता युवती का मिला शव, हत्या के बाद दोस्त ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान - पुलिस

नई दिल्ली:

बाहरी-उत्तरी दिल्ली के नरेला इलाके में एक स्कूल चलाने वाली महिला की गला घोंटकर हत्या कर दी गई. बुधवार दोपहर पांच दिनों बाद महिला का शव उसके ही स्कूल के दफ्तर से बरामद हुआ. महिला की पहचान 32 साल की वर्षा पंवार के रूप में हुई है. वर्षा पिछले पांच दिनों से गायब थी. उसके घरवालों ने नरेला थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई हुई थी.  हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस (Delhi Police) ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि वर्षा के कारोबारी पार्टनर और उसके करीबी दोस्त सोहन लाल ने सोनीपत के हरसाना के पास ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली है.

महिला की हत्या के बाद उसके मित्र ने की आत्महत्या
पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में ऐसा लगता ही कि वर्षा की हत्या करने के बाद सोहन लाल ने खुदकुशी कर अपनी जान दे दी है. वहीं वर्षा के करीबियों का कहना है कि वह भाजपा की कार्यकर्ता थी.  उसने व सोहन ने साथ मिलकर प्ले स्कूल खोला था, जो अप्रैल में शुरू होने वाला था.  पुलिस के मुताबिक वर्षा परिवार के साथ स्वतंत्र नगर में रहती थी. वर्षा ने अपने करीबी दोस्त सोहन लाल के साथ मिलकर नरेला इलाके में टिनी ड्रीमबेरी प्ले स्कूल के नाम से स्कूल खोला था. स्कूल में लगभग सारा काम पूरा हो चुका था. इस बीच 23 फरवरी को किसी काम से जाने की बात कर वर्षा घर से स्कूटी लेकर निकल गई. इसके बाद वह वापस नहीं लौटी. घरवाले उसे कॉल करते रहे, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया. 

24 फरवरी को महिला के पिता ने दर्ज करवाया था केस
24 फरवरी को वर्षा के पिता विजय कुमार ने बेटी के मोबाइल पर कॉल किया तो किसी ने फोन रिसीव किया. उसने बताया कि जिसके पास यह मोबाइल फोन है, वह ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी करना चाहता है.  इसको मरने से रोका हुआ है. वीडियो कॉल की गई तो बदहवास सोहन लाल को लोगों द्वारा पकड़ते देखा गया. वर्षा का परिवार सोनीपत के हरसाना गांव पहुंचा. वहां पर सोहन तो नहीं मिला, लेकिन गांव के लोगों से वर्षा का मोबाइल फोन मिल गया. उन्होंने बताया कि सोहन लाल उनसे छुटकर भाग गया है. वर्षा के घरवाले उसी दिन वापस दिल्ली पहुचे. 24 फरवरी की शाम को नरेला थाने में वर्षा की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी गई. 

स्कूल में मिला शव
पुलिस टीम वर्षा के स्कूल उसकी तलाश में पहुंची यहां स्कूल में बेसमेंट व बाकी जगह उसको देखा गया.  छोटे से ऑफिस पर लोहे का शटर लगा है, उसको खोलकर नहीं देखा गया। इस बीच परिजन सोहन को कॉल करते रहे, उसका भी नंबर नहीं लगा.  न ही वर्षा का कुछ पता चल पा रहा था. बुधवार को  नरेला में रहने वाले लोगों को स्कूल के अंदर से बदबू महसूस हुई. शटर खोला गया तो अंदर वर्षा का एक हाथ दिखाई दिया. इसके बाद पुलिस को खबर दी गई. इसके बाद पुलिस ने शव बरामद कर लिया. इसके बाद पुलिस ने सोहन की तलाश शुरू की. बुधवार शाम को दिल्ली पुलिस ने रेलवे पुलिस हरियाणा से संपर्क किया.जांच के दौरान दिल्ली पुलिस को रेलवे पुलिस से पता चला कि 25 फरवरी को सोनीपत के पास रेलवे ट्रैक से एक शव बरामद हुआ है. शव सोहन लाल का ही बताया जा रहा है.  

ये भी पढ़ें- :

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हेल्पलाइन
वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ9999666555 या help@vandrevalafoundation.com
TISS iCall022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
(अगर आपको सहारे की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं)